ड्रैगन को पटखनी, भारत की इस कंपनी से नहीं हो पायी डील

नई दिल्ली (1 अगस्त): चीनी दवा कंपनी शंघाई फोसुन फार्मास्युटिकल को बड़ा झटका लगा है। ये चीनी कंपनी अब हैदराबाद की दवा कंपनी ग्लैंड फार्मा को नहीं खरीद पाएगी। इससे पहले चीनी दवा कंपनी शंघाई फोसुन फार्मास्युटिकल भारतीय दवा कंपनी ग्लैंड फार्मा में 86 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने की कोशिश में जुटी थी। इसके लिए दोनों कंपनियों के बीच तकरीबन 1.3 अरब डॉलर की डील होने की संभावना थी। लेकिन दोनों कंपनियों में ये डील अपने अंतिम मुकाम तक नहीं पहुंच पाई।

मीडिया में दोनों कंपनियों के बीच करार के फाइनल नहीं होने को डोकलाम विवाद और दोनों देशों के बीच जारी तनाव से जोड़कर देखा जा रहा है। लेकिन सरकार ने इसे सिरे से खारिज किया है।

आपको बता दें कि इस करार से इंजेक्टेबल फॉर्मुलेशंस बनाने की टेक्नॉलजी के मामले में चाइनीज कंपनी की क्षमता बढ़ेगी और भारत में उसके मैन्युफैक्चरिंग नेटवर्क का विस्तार होगा।