चीन की भारत को कड़ी धमकी

नई दिल्ली(14 अक्टूबर): सोशल मीडिया पर चीनी सामानों के बहिष्कार के अभियान से चीन खफा हो गया है। चीनी मीडिया ने कहा है ऐसे करने से दोनों देशों के रिश्ते खराब होंगे। 

- बता दें भारत-पाकिस्तान के बीच जारी तनाव में चीन के भारत विरोधी रवैये के बाद सोशल मीडिया फेसबुक, वॉट्सऐप आदि पर चीन से आयातित सामान की खरीद न करने के लिए अपील जारी की जा रही।

- चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स में कहा गया है कि अपने विशाल बाजार में चीनी माल के मुक्त प्रवाह की अनुमति रोकने के बजाय भारत को औद्योगिक बुनियादी ढांचे में सुधार लाने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। 

- अखबार में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय आर्थिक संबंधों पर कहा गया है। 

-  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी जिनपिंग जब गोवा में  इस सप्ताह ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में मिलेंगे तो उनसे व्यापार घाटे के बारे में विस्तार से बात करने की उम्मीद नहीं की जा सकती। 

- चीनी सरकार के आंकड़ों का हवाला देते हुए लेख में कहा गया है कि, 'सितंबर माह में भारत ने 922 मिलियन $ का सामान चीन को निर्यात किया, जबकि चीन से 5.4 मिलियन $ वस्तु आयात किया । "

- "चीन से आयात प्रमुख, इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों, दूरसंचार उपकरणों, रसायन और दवा उत्पादों शामिल हैं, जबकि चीन में भारत के प्रमुख निर्यात अयस्क, प्लास्टिक और कपास हैं।"

- भारत से मध्य वर्ष के आंकड़ों के अनुसार, द्विपक्षीय व्यापार पिछले वित्त वर्ष 2015-16 में 70.73 बिलियन $ था जो इसके पहले की वित्त वर्ष से  72,34 बिलियन $ से नीचे है।