VIDEO: ''अब मंत्र के जाप से होगा चीन की समस्या का हल''


नई दिल्ली (24 जुलाई):
भारत और चीन के बीच सीमा पर बढ़ते तनाव के बीच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का एक अजीबो गरीब बयान आया है। आरएसएस के पदाधिकारी का कहना है कि चीन जैसे  ‘असुर’ से निपटने के लिए मंत्र जाप का सहारा लेना चाहिए।

अब आप को कैग रिपोर्ट से डरने की जरूरत नहीं है जिसमें कहा गया भारत की सेना के पास सिर्फ दस दिनों का गोला बारूद बचा है। न ही चीन की धमकियों से डरने की जरूरत है, क्योंकि आरआरएस ने एक नया आइडिया पेश किया है। मंत्र जाप से होगा चीन की समस्या का हल। आरएसएस के बड़े नेता इंद्रेश कुमार का कहना है कि चीन एक असुर शक्ति है, जिसकी नजरें हिमालय, तिब्बत, भूटान और भारत पर है अगर इस असुर का इलाज करना है तो सभी भारतवासियों को रोज मंत्रजाप करना चाहिए।

ये वही चीन है जो सुरक्षा परिषद में भारत की सदस्यता पर अडंगा लगाता है। ये वही चीन है जो आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ देता है। ये वही चीन है जो हमारे बाजारों में पलता है और हमें ही उल्टा युद्ध की धमकी देता है। चीन की समस्या का हल अगर मंत्रोजाप है तो इंद्रेश जी आप बहुत लेट हो गए। भारत-चीन का विवाद तो बहुत पुराना है। आरएसएस के इस मंत्र जाप के फॉर्मूला से इतना तो साफ है कि आरएसएस चीन से युद्ध नहीं चाहता।

वहीं विपक्षी दल भी इस पर चुटकी लेने से पीछे नहीं रहे। बिहार के डिप्टी सीएम ने फौरन ट्वीट कर आरएसएस के बयान के बहाने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि केंद्र सरकार कोई ऐसा मंत्र फूंके, जिससे देश के सभी बेरोजगार युवाओं को नौकरी मिले और गरीबी का समूल नाश हो सके।