चीन की कंपनी ने तैयार की सैटेलाइट, पूरी दुनिया को फ्री में मिलेगा WiFi

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (1 दिसंबर): चीन की एक कंपनी पूरी दुनिया को निशुल्क वाईफाई उपलब्ध कराने वाला पहला उपग्रह लेकर आई है। एक तकनीकी कंपनी ने घोषणा की है कि वो साल 2026 तक पूरी दुनिया को फ्री वाईफाई देने लगेगी। इसकी शुरुआत अगले ही साल से हो जाएगी, जब मुफ्त का वाईफाई देने वाला पहला उपग्रह लॉन्च किया जाएगा। चीन की कंपनी लिंकश्योर के अनुसार इस योजना के तहत अगले आठ सालों में अंतरिक्ष में 272 उपग्रह भेज जाएंगे जो यही काम सुनिश्चित करेंगे। इससे दुर्गम पहाड़ी या बर्फीले इलाके जैसी जगहों पर रहने वाले लोगों को फायदा मिल सकेगा, जहां टेलीकॉम कंपनियों का सेटअप नहीं हो सकता है।

यूनाइटेड नेशन्स द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार 2017 के अंत तक लगभग पौने चार मिलियन लोग ऐसे थे, जिन्हें इंटरनेट उपलब्ध नहीं था। भारत में तकनीकी बूम के बावजूद हालात काफी अच्छे नहीं हैं।  वहीं चीन की नई घोषणा काफी राहत देने वाली है। चीन की एक तकनीकी कंपनी ने वादा किया है कि वो आने वाले आठ सालों में पूरी दुनिया के हर कोने में फ्री वाईफाई पहुंचाएगी।चीन के सबसे बड़े अखबारों में से एक पीपुल्स डेली में इस आशय की एक खबर छपी है। इसे दिए एक इंटरव्यू में लिंकश्योर की सीईओ ने इस बारे में जानकारी दी।  रिपोर्ट के अनुसार अगले साल चीन के पश्चिमोत्तर में स्थित गांसू प्रांत में स्थित जियुकान सेटेलाइट लॉन्च सेंटर से पहला उपग्रह लॉन्च किया जाएगा। अगले दो सालों में 10 उपग्रह होंगे जो कि आठ सालों यानी 2016 तक कुल 272 हो जाएंगे।  इससे पूरी दुनिया के लोगों को मुफ्त में इंटरनेट मिल सकेगा।

मुफ्त में वाई-फाई देने का वादा कर रही कंपनी लिंकश्योर की शुरुआत 2013 में शंघाई में हुई थी। जल्द ही इसने बाजार पर कब्जा जमा लिया।  अब कंपनी अपनी नई महत्वाकांक्षी योजना पर तीन अरब यूआन यानी लगभग 43.14 करोड़ डॉलर का निवेश करने जा रही है। बता दें कि गूगल, स्पेसएक्स, वनवेब और टेलीसेट जैसी कंपनियों ने भी फ्री वाई-फाई के लिए सैटेलाइट की कई योजनाओं पर काम शुरू किया है, ऐसे में एशिया की ये एकमात्र कंपनी है जो स्थापित विदेशी कंपनियों को टक्कर देने की तैयारी कर रही है।कंपनी की वेबसाइट बताती है कि केवल चीन ही नहीं, बल्कि 223 देशों में इसके 9 सौ मिलियन से भी ज्यादा यूजर हैं। कंपनी की खासियत उसका वाईफाई मास्टर की नामक फीचर है। ये यूजर की लॉग इन डिटेल मांगे बिना भी उसे वाईफाई उपलब्ध करा पाता है। इसकी यही खूबी इसे तेजी से लोकप्रिय बना रही है। ऐसा अनुमान है कि इस योजना के कई फायदे हो सकेंगे।