चीन ने कट्टर मुसलमानों दिया आदेश, 30 दिन में सरेंडर करो या फिर रहो तैयार

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 नवंबर): चीन के पश्चिमी शिनजियांग प्रांत में कट्टरवाद से प्रभावित मुस्लिमों को आत्मसमर्पण किए जाने से संबंधित एक आदेश दिया गया। इसके तहत इन लोगों को 30 दिन के अंदर आत्मसमर्पण कर अपना अपराध स्वीकार करने का आदेश दिया गया है। इसमें अतिवाद, अलगाववाद और आतंकवाद में लिप्त लोग शामिल हैं। 

चीनी प्राधिकरण ने बाहर के आतंकी समूहों के संपर्क में आये लोगों को 30 दिन के भीतर आत्मसमर्पण कर अपना जुर्म कबूल करने का आदेश दिया है। अधिकारियों ने कहा कि जो न्यायिक अंग के समक्ष 30 दिन में अपने जुर्म को कबूल करेगा उनके साथ नरमी से निपटा जाएगा और इसके साथ ही उनकी सजा को भी टाला जा सकता है। शिनजियांग के हामी शहर की सरकार ने अपने अधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट पर यह आदेश दिया है। 

उल्लेखनीय है कि चीनी सरकार को बीते कुछ महीनों में कार्यकर्ताओं, शिक्षाविदों और विदेशी सरकारों की तरफ से बड़ी संख्या में उइगर मुस्लिमों की गिरफ्तारी पर विरोध झेलना पड़ा है। शिनजियांग में रहने वाले उइगर मुस्लिमों और गैर-ईसाई समूहों पर सख्त निगरानी रखी जा रही है। बता दें कि चीन में उइगर एक अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय है। जिनका चीन के स्वशासित क्षेत्र शिनजियांग में लगातार कथित तौर पर दमन किया जा रहा है। हालांकि चीन ऐसे विरोध पर ध्यान नहीं दे रहा है। उसका कहना है कि हम अल्पसंख्यकों के धर्म और संस्कृति की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं। लेकिन हम सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ऐसे समूहों के खिलाफ कड़ा रूख अख्तियार कर रहे हैं। 

बता दें कि हामी शहर के प्रशासन ने नोटिस में कहा कि उन सभी लोगों को आत्मसमर्पण करने का आदेश दिया जाता है, जो आतंकवाद से संबंधित जुर्म में शामिल रहे हैं। वह सभी 30 दिन के भीतर आत्मसमर्पण कर अपने अपराध को कबूल कर सबूत उपलब्ध कराएं।