PVR को खरीदने की तैयारी में चीन का डालियान ग्रुप

नई दिल्ली(2 सितंबर): देश की सबसे बड़ी मूवी थियेटर कंपनी में ब्लॉकबस्टर डील होने जा रही है। पार्टनरशिप की संभावना तलाशने के 9 महीने बाद एशिया के सबसे बड़े फिल्म ग्रुप और थियेटर ऑपरेटर वांडा सिनेमा ने भारत के सबसे बड़े मल्टिप्लेक्स पीवीआर में कंट्रोलिंग स्टेक खरीदने की बातचीत शुरू की है। 

- वांडा सिनेमा पर चीन के सबसे अमीर शख्स वांग जियानलिन का मालिकाना हक है। वहीं, पीवीआर के प्रमोटर अजय बिजली हैं। डील की बातचीत से वाकिफ कम से कम चार सूत्रों ने बताया कि डालियान वांडा ग्रुप ने पीवीआर का ड्यू डिलिजेंस शुरू कर दिया है। इसके बाद वह कंट्रोलिंग स्टेक खरीदने के लिए फॉर्मल ऑफर दे सकता है।

- बिजली परिवार के पास पीवीआर के 25.26 पर्सेंट शेयर हैं। वह कंपनी में अपनी पूरी हिस्सेदारी बेच सकते हैं या मामूली स्टेक बनाए रख सकते हैं। वहीं, पीवीआर के फाइनैंशल इनवेस्टर्स में रेणुका रामनाथ की मल्टिपल्स और एल कैपिटल एशिया जैसी पीई फर्म शामिल हैं। वे भी अपनी हिस्सेदारी बेचने की तैयारी में हैं। मल्टिपल्स पीवीआर की दूसरी बड़ी शेयरहोल्डर है। उसका कंपनी में 12.5 पर्सेंट स्टेक है।

- वांडा ग्रुप ने पहले पीवीआर में जॉइंट कंट्रोल के लिए बातचीत शुरू की थी। हालांकि, अब वह कंपनी में कंट्रोलिंग हिस्सेदारी चाहता है। अगर सौदा होता है तो चीन के ग्रुप की भारत में धमाकेदार एंट्री होगी। इससे वांडा सिनेमा का एशियाई देशों में दबदबा और बढ़ेगा। इन देशों में ग्रुप तेजी से बिजनस बढ़ा रहा है। वहीं, भारत दुनिया का दूसरा फिल्म मार्केट है।