चीन के राष्ट्रपति शी ने उत्तर कोरिया के किम को लिखा लेटर

नई दिल्ली(3 नवंबर): चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन को एक दुर्लभ संदेश भेजा है। एक साल से ज्यादा समय बाद चीन ने सार्वजनिक तौर पर अपने पड़ोसी से संवाद किया है। संदेश से उनके बीच खिंचाव भरे रिश्तों में संभावित सुधार का संकेत मिलता है।

- प्योंगयोंग की हथियारों को लेकर बढ़ती महत्वाकांक्षा से उनके बीच दूरियां आईं। हालांकि पेइचिंग उसका लंबे समय से साझीदार और आर्थिक सहयोगी है। शी के पिछले सप्ताह का संदेश चीन की सत्तारूढ़ पार्टी के प्रमुख के तौर पर दूसरा कार्यकाल हासिल करने के लिए किम की तरफ से दी गई शुभकामनाओं के जवाब में भेजा गया है।

- उत्तर कोरिया की केसीएनए समाचार एजेंसी ने किम को कॉमरेड चेयरमैन संबोधित करते कहा है, 'मैं कामना करता हूं कि नए हालात में चीनी पक्ष, डीपीआरके पक्ष के साथ दोनों पक्षों और दोनों देशों के बीच निरंतर मजबूत और स्थिर प्रगति को प्रोत्साहन देकर रिश्तों को बढ़ावा देगा।' अपने पहले के नोट में किम ने शी को हार्दिक बधाई दी थी और विश्वास व्यक्त किया था कि दोनों देशों के लोगों के हितों में उनके संबंध विकसित होंगे।

- चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने पेइचिंग में रोजाना के संवाददाता सम्मेलन में कहा कि प्राप्त हुए कई संदेशों में उत्तर कोरिया का भी संदेश था। शी ने शिष्टता के तहत इसका जवाब दिया। इससे पहले केसीएनए ने जुलाई 2016 में शी से संदेश मिलने की खबर दी थी।