भारत के इस कदम से डरा चीन, मीडिया ने किया चीनी सरकार को अलर्ट

बीजिंग (26 सितंबर): इस समय भारत की समस्या सिर्फ आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला पाकिस्तान ही नहीं बल्कि ऑर्थिक विकास कर रहा चीन भी है। लेकिन भारत के एक कदम से चीन काफी घबराया हुआ है। चीनी मीडिया से इसको लेकर अपनी सरकार को भी अलर्ट किया है।

खबर के अनुसार, चीन से भारत में शिफ्ट हो रहे प्रोडक्‍शन बेस पर चीनी मीडिया ने सरकार को अलर्ट किया है। चीनी मीडिया ने हुवावे की ओर से भारत में मैन्‍युफैक्‍चरिंग शुरू किए जाने के बाद वहां होने वाली जॉब कटौती को लेकर चिंता जताई है। 'ग्‍लोबल टाइम्‍स' के आर्टिकल में चीन सरकार से कहा गया है कि बीजिंग को अपने इकोनॉमिक राइवल भारत में प्रोडक्‍शन बेस शिफ्ट होने के चलते कम हो रही नौकरियों को लेकर विचार करना चाहिए। भारत दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी इकोनॉमी के रूप में उभरा है।

क्या कहा गया है आर्टिकल में... - ग्लोबल टाइम्स ने कहा है, ‘‘जिस तरह चीनी कंपनियां भारत में अपनी एसेम्बली लाइन लगा रही हैं। इससे दोनों देशों के बीच इकोनॉमिक कॉम्पिटीशन नए दौर में पहुंच सकता है। क्योंकि, चीन और इंडिया के बीच इं‍डस्ट्रीयल चेन बढ़ाने की होड़ लगी है।’’ - ‘‘हुवावे ने मोबाइल के लिए सबसे तेजी से उभरते मार्केट इंडिया में प्रोडक्शन फैसेलिटी शुरू कर स्मार्टफोन वेंडर्स में हलचल पैदा कर दी है। यदि मोबाइल कंपनियां भारत शिफ्ट होती हैं तो इससे चीन में नौकरियां कम होती जाएंगी।’’ - ‘‘ पिछले कुछ साल में हजारों चीनी कंपनियों ने स्मार्टफोन वेंडर्स के लिए प्रोडक्शन चेन शुरू की है। यह बता पाना मुश्किल है कि कितनी कंपनियां इस काम लगी हैं। लेकिन, यह साफ है कि यदि मोबाइल प्रोडक्शन की इंडस्ट्रियल चेन भी चीन से भारत शिफ्ट होती है तो इससे नौकरियों में भारी कटौती हो सकती है।’’