चीन ने बनाया पानी और धरती पर उड़ने वाला दुनिया का सबसे बड़ा एयरक्राफ्ट

नई दिल्ली ( 24 दिसंबर ): चीन ने पानी और धरती पर उड़ान भरने में सक्षम दुनिया का सबसे बड़े एंफीबियस एयरक्राफ्ट बनाया है। चीन के इस एयरक्राफ्ट ने रविवार को अपनी उड़ान भरी। चीन ने एंफीबियस एयरक्राफ्ट AG600 तैयार किया है, जिसे कोड नेम 'Kunlong' दिया गया है। इसने दक्षिण-चीन सागर के एयरपोर्ट से रविवार को अपनी पहली उड़ान भरी, जो सफल रही। 

रिपोर्ट के मुताबिक यह विमान चीन के समुद्री क्षेत्रों, द्वीपों और अन्य क्षेत्रों की रक्षा करने में सक्षम है। पहले इसकी उडान इसी वर्ष के शुरू में तय की गई थी, लेकिन कुछ कारणों से इसे टाल दिया गया और कुछ परीक्षण अप्रैल में किए गए थे। इस विमान को चीन की सरकारी कंपनी एविएशन इंडस्ट्री कोर आफ चीन ने विकसित किया है।

एविएशन इंडस्ट्री कॉर्पोरेशन ऑफ चाइना (AVIC) ने बताया कि यह विमान 39.6 मीटर लंबा है, जिसके पंखों की लंबाई 38.8 मीटर है। चीन की न्यूज एजेंसी के मुताबिक यह दुनिया का सबसे बड़ा एंफीबियस एयरक्राफ्ट है। 

साल 2015 में खबरें आईं थीं कि चीन ने विश्व के सबसे बड़े एंफीबियस विमान का निर्माण कार्य 17 जुलाई 2015 को शुरू कर दिया था। इसके बारे में बताया गया था कि यह एंफीबियस विमान आसमान में उड़ सकता है और पानी में भी उपयोग में लाया जा सकता है। चीन ने बताया था कि AG600 विमान अपने अधिकतम वजन और उड़ान क्षमता की वजह से विश्व के अन्य एंफीबियस विमानों की तुलना में बेहतर है।

बता दें कि हाल ही के कुछ सालों में चीन ने विमानन प्रौद्योगिकी में बड़ी प्रगति की है। 17 दिसंबर को शंघाई में चीन ने पैसेंजर जेट C919 का सेकंड प्रोटोटाइप लॉन्च किया था।