भारत के विरोध को दरकिनार कर, सिंधु पर चीन की मदद से बांध बनाएगा पाक

नई दिल्ली (20 जून): पाकिस्तान के साथ मिलकर चीन के सिंधु नदी पर बांध बनाने की पेशकश के बाद भारत ने इस मुद्दे पर कड़ी आपत्ति जताई थी। लेकिन इसके बावजूद पाकिस्तान ने भारत के विरोध को दरकिनार करते हुए दावा किया है कि चीन सिंधु नदी पर बांध बनाएगा। मामले में पाकिस्तान के सरकारी रेडियो की ओर से दावा किया गया कि यह चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कोरिडोर (सीपीईसी) का हिस्सा है।


इस डैम परियोजना से पाकिस्तान को बिजली उत्पादन में मिलने वाले लाभ के बारे में सोमवार को नेशनल असेंबली की एक समिति को बताया गया। मामले में महीने की शुरुआत में पाकिस्तान के प्लानिंग मंत्री अहसान इकबाल ने अपने साक्षात्कार में एक न्यूज एजेंसी को बताया था कि पाकिस्तान को उम्मीद है कि चीन परियोजना को आर्थिक निधि देगा।


यह बांध एक ऐसी परियोजना है जिसे बनाने में योगदान देने से विश्व बैंक और एशियाई विकास बैंक (एडीबी) दोनों ने इंकार कर दिया, क्योंकि भारत का दावा है कि यह क्षेत्र कश्मीर का एक हिस्सा है।