अमेरिका से व्यापारिक घाटा खत्म करने के लिए 13 लाख 60 हजार करोड़ खर्च करेगा चीन

नई दिल्ली ( 20 मई ): चीन ने अमेरिका के साथ अपने कारोबारी घाटे को कम करने के लिए उससे 200 अरब डॉलर यानी करीब 13 लाख 60 हजार करोड़ रुपये का सामान खरीदने का फैसला किया है। हाल ही में दोनों देशों के बीच व्यापार को लेकर उच्च स्तरीय वार्ता हुई। इसके बाद जारी साझा बयान में कहा गया है कि इससे कारोबारी असंतुलन कम करने में मदद मिलेगी। साथ ही दोनों देशों के बीच अमेरिका के ऐग्रिकल्चर और एनर्जी एक्सपोर्ट्स में इजाफे को लेकर भी सहमति बनी।बता दें कि बीते कुछ महीनों से दोनों देशों के बीच व्यापारिक असंतुलन को लेकर तनाव चल रहा था और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कई बार चीन पर जवाबी कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी।दोनों देशों के व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल के बीच 17 और 18 मई को हुई बातचीत में कहा गया कि इस प्रस्ताव पर काम करने के लिए अमेरिका की ओर से जल्दी ही चीन में एक टीम भेजी जाएगी। बयान में कहा गया, 'अमेरिका के साथ चीन के व्यापारिक असंतुलन को प्रभावी तरीके से दूर करने के लिए सहमति बनी है। चीन के लोगों की उपभोग की बढ़ती जरूरतों और उच्च स्तरीय आर्थिक विकास को हासिल करने के लिए चीन ने अमेरिका से सामान और सेवाओं की खरीद को बढ़ाने का फैसला लिया है।'