Blog single photo

चीन, पाक टेंशन की वजह से रक्षा खर्च बढ़ा रहा भारत!, टॉप 5 देशों में शामिल

अमेरिका और चीन के साथ अब भारत भी रक्षा पर सबसे ज्यादा खर्च करने वाले देशों की सूची में शामिल हो गया है। भारत दुनिया के टॉप 5 ऐसे देशों में है, जो रक्षा पर सबसे ज्यादा खर्च करते हैं। इसकी वजह भारत की चीन और पाकिस्तान के साथ लगातार बढ़ रही टेंशन को माना जा रहा है।

नई दिल्ली  ( 2 मई ): दुनिया के स्तर पर रक्षा खर्च 2017 में बढ़कर 1,739 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। अमेरिका और चीन के साथ अब भारत भी रक्षा पर सबसे ज्यादा खर्च करने वाले देशों की सूची में शामिल हो गया है। भारत दुनिया के टॉप 5 ऐसे देशों में है, जो रक्षा पर सबसे ज्यादा खर्च करते हैं। इसकी वजह भारत की चीन और पाकिस्तान के साथ लगातार बढ़ रही टेंशन को माना जा रहा है।भारत ने 2017 में डिफेंस पर खर्चे में लगभग 4,26,354 करोड़ रुपये के खर्च के साथ 5.5 प्रतिशत की वृद्धि की थी। इस आंकड़े के साथ भारत इस मामले में फ्रांस से आगे निकल गया है। स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टिट्यूट(एसआईपीआरआई) की रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया है।रिपोर्ट के मुताबिक 2017 में रक्षा खर्च में अग्रणी पांच देशों में अमेरिका, चीन, सऊदी अरब, रूस और भारत शामिल हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2017 में वैश्विक स्तर पर रक्षा खर्च 2016 की तुलना में 1.1 प्रतिशत बढ़कर 1,739 अरब डॉलर पर पहुंच गया।  एसआईपीआरआई के संचालन बोर्ड के प्रमुख जैन इलियासन ने कहा कि दुनिया भर में रक्षा खर्च में लगातार हो रही बढ़ोतरी चिंता की बात है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन का सैन्य खर्च अनुमानत: 228 अरब डॉलर है जो एशिया और ओशियाना क्षेत्र में कुल रक्षा खर्च का 48 प्रतिशत बैठता है। यह क्षेत्र में खर्च में दूसरे नंबर पर रहे भारत से 3.6 गुना अधिक है।2017 में भारत का रक्षा खर्च 63.9 अरब डॉलर रहा जो 2016 की तुलना में 5.5 प्रतिशत अधिक है। यह 2008 से 45 प्रतिशत ज्यादा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन और पाकिस्तान के साथ तनाव की वजह से भारत सरकार अपने सैन्य बलों का विस्तार, आधुनिकीकरण और परिचालन क्षमता को बढ़ाना चाहती है।

Tags :

NEXT STORY
Top