मुश्किल में 'टेररिस्‍तान', आतंकवाद के खिलाफ इस तरह भारत की मदद करेगा चीन

नई दिल्ली (1 अक्टूबर): आने वाले दिनों में 'टेररिस्‍तान' यानी पाकिस्तान की मुश्किलें और बढ़ने वाली है। पाकिस्तान का दोस्त चीन अब आतंकवाद के खिलाफ भारत की मुहिम का मदद करेगा। ब्रिक्स में पाकिस्तान के आतंकी समूहों की निंदा के बाद अब चीन ने कहा है कि वह आतंकी फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग के खिलाफ लड़ाई में समर्थन करेगा।   चीन के केंद्रीय बैंक पीपल्स बैंक ऑफ चाइना यानी PBOC ने कहा गया है कि मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकवादी फंडिंग गतिविधियां धीरे-धीरे कुछ गैर-वित्तीय क्षेत्रों में फैल रही है। इनमें से कुछ क्षेत्रों में पहले से ही निगरानी और विश्लेषण शुरू कर दिया है। अब गैर-वित्तीय उद्योगों के लिए मनी लॉन्ड्रिंग के नियमों पर संबंधित सरकारी विभागों के साथ काम करेगा। 

चीन में 2007 में एंटी मनी लॉन्ड्रिंग कानून प्रभावी होने के बाद से निरीक्षण में सुधार हुआ है और यह लगभग सभी वित्तीय क्षेत्रों पर लागू हो गया है। इस बयान में कहा गया है कि चीन अपने कानून में सुधार कर और उसे बेहतर बनाकर 2020 तक मनी लॉन्ड्रिंग, आतंकवादी फंडिंग और कर चोरी को रोकने और उस पर नियंत्रण करने में सक्षम हो जाएगा।