विदेशी मीडिया के ऑनलाइन पब्लिशिंग पर 'बैन' लगाएगा चीन

नई दिल्ली (19 फरवरी): चीन सभी विदेशी मीडिया कंपनियों को देश में ऑनलाइन कंटेंट प्रकाशित करने पर बिना सरकार की अनुमति के प्रतिबंध लगाने जा रहा है। इस प्रतिबंध के अगले महीने से लागू होने की घोषणा की गई है।

ब्रिटिश अखबार 'द इंडिपेंडेंट' की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के उद्योग और इन्फॉर्मेशन टेक्नॉलॉजी मंत्रालय ने नए निर्देश जारी किए हैं। जिसमें कहा गया है कि जिन कंपनियों में विदेशी स्वामित्व है उन्हें 'सूचनात्मक और विचारात्मक प्रकृति' के शब्दों, तस्वीरों, मानचित्रों, गेम्स, एनिमेशन और साउंड को प्रकाशित करने से रोका जाएगा, अगर उनके पास स्टेट एडमिनिस्ट्रेशन ऑफ प्रेस, पब्लिकेशन, रेडियो, फिल्म और टेलीविजन की अनुमति नहीं होगी। 

इसका मतलब है, कि पूरी तरह से चीनी स्वामित्व वाली कंपनियों को ही ऑनलाइन पब्लिशिंग का अधिकार होगा। जो कि सरकार के विचारों के लिए कठोर सेल्फ-सेंशरशिप का पालन करते हैं।

नए रेगुलेशन्स में कहा गया है, ''चीनी-विदेशी ज्वाइंट वेंचर्स, चीनी-विदेशी कोऑपरेटिव वेंचर्स और विदेशी बिजनेस यूनिट्स ऑनलाइन पब्लिशिंग सर्विसेस में शामिल नहीं होंगे।'' 

कम्यूनिस्ट रिपब्लिक का लोगों के इंटरनेट पर कंटेंट देखने की सामग्री पर नियंत्रण और मजबूत करने की दिशा में यह ताजा कदम है। इसके साथ ही यह कदम चीन के राजनैतिक माहौल में बढ़ते प्रतिबंधों को भी उजागर करता है। जहां नेतृत्व सार्वजनिक भाषण और विचार पर लगाम लगाना चाहता है।