अमेरिका के सामने रूस-चीन एकजुट? साउथ चाइना सी में जल्द उठाएंगे ये बड़ा कदम

नई दिल्ली (28 जुलाई) : चीन की सेना ने गुरुवार को कहा कि वह रूसी सेना के साथ साउथ चाइना सी में सितंबर में साझा अभ्यास करेगी। बता दें कि साउथ चाइना सी का मसला अभी सुर्खियों में रहा था जब इस क्षेत्र के पानी पर चीन के इकलौते कब्जे के दावे को हेग स्थित इंटरनेशनल ऑर्बिटरी बॉडी ने ठुकरा दिया था।

चीनी सेना के प्रवक्ता कर्नल यांग युजुन ने कहा कि सितंबर में समुद्र और आसमान में चीन और रूस का साझा सैन्य अभ्यास होगा। प्रवक्ता के मुताबिक इससे दोनों मिलिट्री ताकतों के बीच संबंध मजबूत होंगे और समुद्र से किसी भी तरह की चुनौतियों को मुंहतोड़ जवाब दिया जा सकेगा।

यांग ने ये भी कहा कि इस अभ्यास को किसी तीसरे पक्ष के ख़िलाफ ना समझा जाए। यांग ने साउथ चाइना सी में उस जगह का खुलासा नहीं किया जहां ये अभ्यास होगा।

बता दें कि इस क्षेत्र में चीन के जहाज विवादित जल क्षेत्र में अमेरिका, फिलीपींस और अन्य देशों की नौकाओं को चुनौती देते रहते हैं। चीन इस महीने के शुरू में इंटरनेशनल ट्रिब्यूनल के फैसले को पहले ही करार दे चुका है।

रूस और चीन हाल के वर्षों में ऐसे कई साझा अभ्यास कर चुके हैं। हालांकि दोनों देशों के आपस में भी क्षेत्र और मध्य एशिया में प्रभाव को लेकर कई तरह के विवाद हैं लेकिन एशिया पैसेफिक क्षेत्र में अमेरिका के प्रभाव को कम से कम करने के लिए दोनों देश एकजुट हैं।