'चीन की दख़ल से चल रही ओली सरकार नेपाल को आतंकियों का गढ बना देगी'

नई दिल्ली (10 जून): नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री बाबूराम भट्टाराई ने नेपाल की केपी शर्मा ओली सरकार के बारे में अहम खुलासा किया है। चीन की दखल से ओली सरकार सत्ता में हैं। उन्होंने नेपाली सत्ता में इस हद तक बढ़ चुके दखल को भी उजागर किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भट्टाराई ने कहा कि केपी शर्मा ओली की सरकार सत्‍ता से बाहर होनी वाली थी, लेकिन चीन ने उसे बचा लिया।

उनके मुताबिक, ओली सरकार ने इसके लिए भारत के नाम का इस्‍तेमाल किया जिससे उसे चीन की मदद मिली। ओली ने ऐसा डर दिखाया कि भारत भी चाहता है कि उनकी सरकार हट जाये। ओली ने चीन से कहा कि अगर वो सत्ता से बाहर होते हैं तो भारत का दबदबा और बढ जाएगा।  भारत के प्रभाव को रोकने के लिए चीन ने हस्‍तक्षेप किया। भट्टाराई ने कहा, 'ओली ने 'इंडिया कार्ड' खेलकर अपनी सरकार को चीन की मदद से बचाया।

भट्टाराई ने इसके अलावा ऐसे संकेत भी दिए कि भारत भी ओली सरकार को हटाना चाहता था। उन्‍होंने कहा, चीन की मदद से ओली सरकार इतने वक्‍त तक सत्‍ता में बनी हुई है। भारत ने सत्‍तारूढ़ गठबंधन को हटाने की कोशिश की थी। नेपाल के 35वें प्रधानमंत्री रहे भट्टाराई ने ओली सरकार पर यह आरोप भी लगाया कि वह देश को अंतरराष्‍ट्रीय संघर्ष का केंद्र बना रही है और इससे नेपाल आतंकवादियों का गढ़ बन सकता है।