अमेरिका से युद्ध की तैयारियों में जुटा चीन !

बीजिंग (27 जनवरी): दुनिया के दो सबसे बड़े ताकदवर देशों के बीच लगातार युद्ध जैसे हालात बनते जा रहे हैं। चीनी मीडिया के मुताबिक चीन ने अमेरिका से संभावित अपने सैन्य टकराव के लिए तैयारियां भी शुरू कर दी है।

दरअसल दक्षिण चीन सागर में चीन आक्रमक नीति अपना रहा है और इस सागर के जुड़े देशों के हितों की लगातार अनदेखी कर यहां अपनी स्थिति मजबूत करता जा रहा है। जापान, वियतनाम समेत अन्य देशों के भारी विरोध के बावजूद चीन अपने आक्रमक रूख पर अड़ा है।

इसी कड़ी में अमेरिका के नए राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने संकेत दिए हैं कि वो दक्षिण चीन सागर विवाद और अन्य मुद्दों पर बीजिंग के दावों के मुकाबले पहले से ज्यादा सख्त नीति अपनाएंगे।

चीन के केंद्रीय सैन्य आयोग के राष्ट्रीय रक्षा संचालन विभाग के एक अधिकारी की ओर से लिखे लेखमें कहा गया कि अमेरिका एशिया में अपनी रणनीति को फिर से संतुलित करने, पूर्वी एवं दक्षिण चीन सागरों में सैन्य तैनाती और दक्षिण कोरिया में एक मिसाइल रक्षा प्रणाली स्थापित करने की बातें कर रहा है, जिससे माहौल बिगड़ने की आशंका है । हॉन्ग कॉन्ग स्थित साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने इस आलेख के हवाले से लिखा, 'राष्ट्रपति के कार्यकाल में' या 'आज रात युद्ध शुरू होने वाला है' ये सिर्फ नारे नहीं हैं, बल्कि यह व्यावहारिक वास्तविकता है ।'

सरकारी अखबार पीपल्स डेली ने भी बीते रविवार को एक अन्य आलेख में कहा था कि चीन की सेना खुले सागर में अभ्यास करेगी, चाहे विदेशी उकसावे हों या न हों ।