पाकिस्तान में क्या रही थी चीन की परमाणु पनडुब्बी, कहीं भारत के खिलाफ नई चाल तो नहीं!


नई दिल्ली ( 7 जनवरी ):  पिछले साल चीन की एक परमाणु क्षमता वाली पनडुब्बी पाकिस्तान के कराची बंदरगाह पर तैनात थी। इससे साबित होता कि अब भारतीय युद्धक पोतों की गतिविधियों पर पहले की तुलना में ज़्यादा बारीकी से और करीबी नज़र रख रहा है। खबरों के मुताबिक चीन पाकिस्तान को 8 पनडुब्बियां बेच रहा है। इनमें से 4 पनडुब्बियां कराची में बनाई जाएंगी। शुरुआती 4 पनडुब्बियों की खेप साल 2023 के आखिर तक पाकिस्तान को मिलने की संभावना है।




इस पनडुब्बी की तस्वीर गूगल अर्थ ने मई 2016 में ली थी। विशेषज्ञों के मुताबिक, इस तस्वीर में दिख रही पनडुब्बी चीनी बेड़े के सबसे ताजातरीन और अत्याधुनिक पनडुब्बियों में से एक है। इसी पनडुब्बी को जून 2016 में मलय और सुमात्रा के बीच की समुद्रीय नहर को पार करते हुए देखा गया था। नियमों के मुताबिक, किसी भी पनडुब्बी के लिए जलडमरुमध्य पार करते समय समुद्र की सतह पर आना जरूरी है।

इससे पहले भी चीनी पनडुब्बियों को हिंद महासागर में देखा गया है। चीनी जहाजों और पनडुब्बियों के पाकिस्तान में दिखने की बात पर प्रतिक्रिया करते हुए नौसेना प्रमुख ऐडमिरल सुनील लांबा ने कहा कि भारत इस पूरे घटनाक्रम पर बारीकी से नजर रख रहा है।