पाकिस्तान पर कब्जे की फिराक में चीन, इस बड़ी योजना पर कर रहा है काम

इस्लामाबाद (18 दिसंबर): अपनी विस्तारवादी नीति को अंजाम देने के चीन पाकिस्तान में नई चाल चल रहा है। चीन ने पिछले दिनों पाकिस्तान के छोटे से तटीय शहर ग्वादर के लिए 50 करोड़ डॉलर यानी करीब 3300 करोड़ रुपए ग्रांट दी है। इस छोटे से शहर के लिए इतनी बड़ी ग्रांट देकर चीन का पाकिस्तान में पैर जमाने का है। जानकारों के मुताबिक पाकिस्तान पर कब्जे की अपनी योजना तहत चीन ने पाकिस्तान को ये ग्रांड दिया है।

दरअसल चीन ग्वादर शहर में अपनी महत्वकांक्षी योजनाओं पर काम कर रहा है। अरब सागर के तट पर स्थित ग्वादर चीन के वाणिज्य के साथ-साथ सामरिक दृष्ट्रि से काफी महत्वपूर्ण है। चीन आगे चलकर ग्वादर में नौसेना का बेस बनाने की फिराक में है। चीन की इस योजना से भारत के साथ-साथ अमरीका की चिंता बढ़ गई है।

चीन ग्वादर में एक मेगापोर्ट विकसित करके दुनिया भर में निर्यात करना चाहता है। यहां से चीन पश्चिमी क्षेत्र से जुड़ने के लिए एनर्जी पाइपलाइन्स, सड़कों और रेल का लिंक का जाल बिछाएगा। पाकिस्तानी अधिकारी यहां अगले साल 12 लाख टन कारोबार की उम्मीद कर रहे हैं जो साल 2022 में बढ़कर 1.3 करोड़ टन तक पहुंच जाएगा।