कार रैली के बहाने चीन और पाकिस्तान ने दिखाई दोस्ती

नई दिल्ली ( 15 अक्टूबर ): भारत और पाकिस्तान के बीच चल रहे तनाव और भारत के तमाम एतराज को खारिज करते हुए पाक अधिकृत कश्मीर में पाकिस्तान और चीन ने अपनी गतिविधयां जारी रखी हैं। चीन ने पाकिस्तान के साथ मिलकर कार रैली निकाली है जिसे चीन-पाकिस्तान फ्रेंडशिप कार रैली का नाम दिया गया है। इससे साफ पता चलता है कि दोनों देशों को भारत की आपत्तियों की कोई परवाह नहीं है।

वहीं दूसरी ओर गिलगिट और बल्टिस्तान के मुख्यमंत्री हाफिज हफीजुर रहमान ने भी चीन-पाकिस्तान फ्रेंडशिप कार रैली का स्वागत किया है और इस प्रतियोगिता भाग ले रहे हैं प्रतिभागियों को खाने पर आमंत्रित किया है। 

चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) और पीओके के गिलगित-बाल्टिस्तान में चीन की मौजूदगी के बीच चीन ने एक कार रैली आयोजित की है जो शुक्रवार को यहां पहुंची। ये रैली ठीक ऐसे वक्त पर हो रही है जब चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग गोवा में आयोजित हो रहे ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेने भारत पहुंचे हैं। 

शुक्रवार शाम चीन से 22 कारों का काफिला गिलगित-बाल्टिस्तान पहुंचा। इसमें करीब 50 लोग सवार थे। कारों का काफिला खुंजेराव पास, हुंजा को क्रॉस करता हुआ गिलगित पहुंचा। बाद में शाम के वक्त ये कार रैली गिलगित शहर पहुंची। आज ये रैली कराची पहुंचेगी और इसके बाद ईरान और यूएई के लिए रवाना होगी।