पाकिस्तान खड़ा कर सकता है बड़ा वित्तीय संकट:चीनी मीडिया

नई दिल्ली(22 फरवरी): चीन के आधिकारिक मीडिया ने मंगलवार को कहा कि चीन को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि पाकिस्तान का बढ़ता राजकोषीय घाटा किसी बड़े वित्तीय संकट में नहीं बदले। उल्लेखनीय है कि चीन ने पाकिस्तान में भारी निवेश कर रखा है, जिसमें चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे की परियोजना में निवेश का बड़ा हिस्सा भी शामिल है।

       

- चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने एक आलेख में कहा है, 'पाकिस्तान की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था जहां विदेशी निवेश के लिए आकर्षण का बिंदु बनी है, वहीं देश के बढ़ते राजकोषीय घाटे और सार्वजनिक ऋण को लेकर अंतरराष्ट्रीय निवेशकों में चिंता है।' अखबार के अनुसार, 'इससे ऋण चुकाने की पाकिस्तान की क्षमता पर सवालिया निशान लगे हैं।' इसके अनुसार केवल सीपीईसी में निवेश 51 अरब डॉलर का है।

-आलेख में कहा गया है, 'पाकिस्तान में चीन के भारी भरकम निवेश को ध्यान में रखते हुए चीन को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि पाकिस्तान का बढ़ता राजकोषीय घाटा बड़ा वित्तीय संकट नहीं बन जाए।'