चीन में मुसलमानों को फरमान, पुलिस के पास जमा करानी होगी कुरान!

नई दिल्ली (30 सितंबर): भले ही पाकिस्तान चीन को अपना सबसे अच्छा दोस्त बताता हो, लेकिन वहां पर मुसलमानों की स्थिति काफी खराब है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं कि क्योंकि चीन में रहने वाले मुस्लिमों से नमाज पढ़ने की चटाई और कुरान पुलिस को सौंपने को कहा गया है। ऐसा न करने पर उन्हें सजा भुगतने को भी कहा गया है।

चीनी अधिकारियों का कहना है कि कुरान में चरमपंथ को बढ़ावा देने वाली सामग्री है। चीन के शिन्जियांग प्रांत के अधिकारियों ने उईगुर समुदाय को चेतावनी दी है कि उन्हें अपनी सभी धार्मिक चीजें देनी होगी वरना कड़ी सजा के लिए तैयार रहना होगा। यह निर्देश देश में रह रहे कजाखस्तान और किर्गिस्तान के मुस्लिमों को भी दिए गए हैं। इस आदेश की घोषणा कथित तौर पर सोशल नेटवर्किंग साइट वीचैट के जरिए की गई है।

उईगुर कांग्रेस के एक निर्वासित नेता ने अमेरिकी सरकार द्वारा चलाए जा रहे रेडियो फ्री एशिया (RFA) को बताया, 'हमें एक नोटिफिकेशन मिला है जिसके मुताबिक उईगुर समुदाय के सभी लोगों को उनके घर में मौजूद इस्लाम धर्म से जुड़ी एक-एक चीज, जैसे कुरान, नमाज पढ़ने वाली चटाई वगैरह अधिकारियों को सौंपना है। उन्हें स्वेच्छा से सभी धार्मिक सामान वापस देना है, अगर ऐसा नहीं हुआ तो उन्हें इसके लिए कड़ी सजा दी जाएगी।'