'दुश्मन' चीन की नई चाल, एनएसजी और अजहर पर नहीं बदलेगा रुख

नई दिल्ली (12 दिसंबर): भारत के खिलाफ जाते हुए चीन ने एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना आतंकी मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने की बात नहीं करने से मना कर दिया है। इतना ही नहीं चीन ने न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप (एनएसजी) में भारत की एंट्री पर भी अपने स्टैंड को बदलने से इनकार कर दिया है।

गौरतलब है कि चीन ने एनएसजी में भारत की एंट्री का विरोध किया था। अब चीन विरोध के अपने इस पुराने स्टैंड पर कायम रहने वाला है। चीन ने एनएसजी में भारत की एंट्री के दावे को इस आधार पर खारिज कर दिया था कि उसने एनपीटी पर साइन नहीं किए हैं। हालांकि भारत ने इस मुद्दे पर दोनों पक्षों के बीच 'तर्कसंगत और व्यवहारिक' बातचीत की वकालत की थी। 

चीन ने पहले से मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने के मामले में तकनीकी अवरोध लगा रखा है। इस महीने चीन का तकनीकी अवरोध खत्म होने वाला था। चीन की तरफ से इस तरह की खबरें आई थीं कि वह इस मामले में भारत के संपर्क में है। अंततः चीन ने अपने पुराने स्टैंड पर ही खड़े रहने की बात कही है।