चीन ने शुरू की युद्ध की तैयारी, भारतीय सीमा के पास जमा किए हथियार


नई दिल्ली (19 जुलाई): पिछले एक महीने से डोकलाम में भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ा हुआ है। यहां दोनों देशों की सेना तंबू लगाकर एक दूसरे के आमने-सामने डटी है। वहीं चीन लगातार भारत को पीछे हटने की चेतावनी दे रहा है और ऐसा नहीं करने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दे रहा है। इन सबके बीच खबरें आ रही है कि चीन ने भारत से सटी सीमाओं पर अपनी चालबाजी शुरू कर दी है। ड्रैगन ने तिब्बत में सिक्किम से सटे सीमा पर हथियारों का जखीरा तैयार करने में जुटा है। बताया जा रहा है कि चीन ने ये काम डोकलाम में विवाद शुरू होते ही जून महीने में ही शुरू कर दिया था। चीनी मीडिया का कहना है कि पेइचिंग ने भारत से सटे तिब्बत में 'हजारों टन' सैन्य साजो-सामान जुटा लिया है।

बताया जा रहा है कि भारतीय सीमा के इतने नजदीक अपने सैनिक, सैन्य साजो-सामान और मिलिटरी उपकरण जमा करके से चीन अपनी सामरिक स्थिति को ज्यादा मजबूत करना चाहता है। जानकारों के मुताबिक इस विवाद के लंबा खिंचने की आशंका के मद्देनजर चीन नई दिल्ली को चौतरफा घेरने और उसपर दबाव डालने की हरसंभव कोशिश कर रहा है।

चीन के पीपल्स लिबरेशन आर्मी यानी PLA डेली के हवाले से साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने अपने लेख में लिखा है कि वेस्टर्न थिअटर कमांड ने उत्तरी तिब्बत में स्थित कुनलुन पहाड़ी क्षेत्र में ये सारा सामान जमा किया है। चीनी सेना का वेस्टर्न थिअटर कमांड शिनजांग प्रांत और तिब्बत के मामलों के साथ-साथ भारत के साथ जुड़े सीमा विवादों को भी संभालता है।

आपको बता दें कि चीन डोकलाम में जारी विवाद को खत्म करने के लिए रोज नए-नए तरीके अपना रहा है। एक ओर चीन का सरकारी मीडिया इस मामले में खुलकर भारत को धमका रहा है, तो वहीं चीन कूटनीतिक व सैन्य स्तर पर भारत के ऊपर दबाव बनाने की पूरी कोशिश कर रहा है। चीन का आधिकारिक मीडिया कई बार डोकलाम विवाद का जिक्र करते हुए भारत को युद्ध की धमकी दे चुकी है।