ट्रंप की टिप्पणी से ड्रैगन को लगी मिर्ची- बोला अमेरिका से 'खतरा'

नई दिल्ली ( 21 सितंबर ): चीन ने अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की आलोचना करते हुए पेइचिंग की संप्रभुता के लिए बड़ा खतरा बताया है।  मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन में डॉनल्ड ट्रंप ने रूस और चीन का बिना नाम लिए यूक्रेन और प्राकृतिक संपदा के लिहाज से समृद्ध दक्षिण चीन सागर की 'संप्रभुता पर खतरे' की बात कही थी। ट्रंप ने कहा था, 'हमें कानूनों, सीमाओं और संस्कृति का हर हाल में सम्मान करना चाहिए।' 

'हिलेरी क्लिंटन ने भी डॉनल्ड ट्रंप के

भाषण को बताया खतरनाक'

संयुक्त राष्ट्र महासभा में ट्रंप की टिप्पणी पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कंग ने पेइचिंग में कहा, 'कभी-कभी कुछ देश फ्रीडम ऑफ नैविगेशन की आड़ में अपने विमानों और नौसैनिक बेड़ों को दक्षिण चीन सागर के नजदीक लाते हैं। वास्तव में, मुझे लगता है कि इस तरह के व्यवहार से दक्षिण चीन सागर से जुड़े देशों की संप्रभुता को खतरा होता है। चीन ही नहीं बल्कि राष्ट्रपति चुनाव में प्रतिद्वंदी रहीं हिलेरी क्लिंटन ने भी युएन में अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर डॉनल्ड ट्रंप के भाषण को खतरनाक बताया है।