बुलेट ट्रेन मांगने पर चीन ने पाकिस्तान को किया बेइज्जत... इस तरह उडा़या मज़ाक

नई दिल्ली (1 दिसंबर): चीन-पाकिस्तान-इकोनॉमिक कॉरिडोर के साथ ही जब पाकिस्तान की सरकार ने चीन से बुलेट ट्रेन के बारे में बात की तो चीनी प्रतिनिधियों ने पाकिस्तान की मजाक बनायी और वो उन पर हंस पड़े। चीन ने पाकिस्तान से कहा कि अगर उनके यहां 160 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ही ट्रेने दौड़ने लगे तो उसी को बुलेट ट्रेन समझ लो। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक उपरोक्त बयान पाकिस्तान के रेल मंत्री ख्वाजा साद रफीक ने नैशनल असेंबली में  दिया है।

पाकिस्तान की नवाज शरीफ सरकार ने चुनावों के दौरान देश में बुलेट ट्रेन दौड़ाने का वादा किया था। अब सरकार चाहती है कि 51बिलियन डॉलर के चीन-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) प्रॉजेक्ट के तहत चीन बुलेट ट्रेन बनाने में मदद करे। डॉन  ने पाकिस्तान के रेल मंत्री को कोट करते हुए लिखा, 'हमने जब चीनियों से बुलेट ट्रेन के बारे में कहा तो वे हम पर हंस पड़े। हमें सीपीईसी के तहत 160 किमी/घंटे की रफ्तार से चलने वाली ट्रेन को ही बुलेट ट्रेन समझ लेना चाहिए। हम बुलेट ट्रेन का खर्च नहीं उठा सकते। यहां इसका कोई बाजार नहीं है। पाकिस्तानी सरकार और देश की मीडिया सीपीईसी को माहौल बदलने वाला प्रॉजेक्ट मान रही है। वहीं, कई विश्लेषकों का मानना है कि इस प्रॉजेक्ट की मदद से चीन नेक्स्ट एशियन टाइगर बन जाएगा।