साउथ चाइना सी में बढ़ा तनाव, चीन ने तैनात किए रॉकेट लॉन्चर्स

नई दिल्ली ( 17 मई ): एक तरफ जहां कोरियाई क्षेत्र में तनाव अपने चरम पर है, तो वहीं चीन ने अब साउथ चाइना सी के एक विवादित चट्टान पर रॉकेट लॉन्चर्स तैनात कर दिए हैं। कहा जा रहा है इसका मकसद वियतनाम के सैन्य गोताखोरों को इस जगह से दूर रखना है। चीन के एक सरकारी अखबार ने इसकी जानकारी दी है।

बता दें कि साउथ चाइना सी में चीन के आक्रामक रुख का भारत भी विरोध करता रहा है। जानकारों की राय में चीन का यह ताजा कदम पूरे क्षेत्र में तनाव बढ़ाने वाला साबित हो सकता है।

इससे पहले पेइचिंग ने कहा था कि दक्षिणी चीन सागर के द्वीपों पर सैन्य निर्माण कराने का उसका मकसद सीमित है और इसका इस्तेमाल वह जरूरी सुरक्षा के लिए करेगा। साथ ही चीन ने यह भी कहा था कि वह अपने अधिकार क्षेत्र में जो भी करना चाहे, वह करने के लिए स्वतंत्र है। उधर अमेरिका ने चीन द्वारा इस विवादित क्षेत्र में कराए जा रहे सैन्य निर्माणकार्य की निंदा करते हुए कहा था कि चीन अपनी समुद्री चौकियों का सैन्यीकरण कर रहा है।

चीन की सरकार के नियंत्रण वाले अखबार 'डिफेंस टाइम्स' ने मंगलवार को अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि स्प्रैटलि द्वीपसमूह में स्थित फियरी क्रॉस चट्टान पर रॉकेट लॉन्चर डिफेंस सिस्टम तैनात किया गया है। ये रॉकेट लॉन्चर्स दुश्मन देश के गोताखोरों की पहचान कर सकते हैं और उनपर हमला भी कर सकते हैं। फियरी क्रॉस रीफ पर चीन का अधिकार है, लेकिन उसके इस अधिकार को फिलीपीन्स, वियतनाम और ताइवान चुनौती देते हैं। ये सभी देश इस चट्टान पर अपना दावा करते हैं।

अखबार ने अपनी रिपोर्ट में यह साफ नहीं किया है कि चीन ने यह डिफेंस सिस्टम कब लॉन्च किया, लेकिन इतना जरूर बता गया है कि यह मई 2014 में शुरू की गई रक्षात्मक गतिविधियों का ही हिस्सा है।