नेपाल में बढ़ा चीन का दखल, रोजमर्रा के सामान के साथ हथियार सप्लाई का संदेह

नई दिल्ली (13 मई): चीन ने नेपाल में अपना दखल बढाते हुए रेल-सड़क सेवा शुरु कर दी है। नेपाल की जनता की रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने और भारत पर निर्भरता कम करने के लिए चीन ने यह कदम उठाया है। इस तरह से चीन ने एक तरफ नेपाल और दूसरी तरफ कश्मीर में पाकिस्तान के माध्यम से भारत पर शिकंजा कस दिया है।

चीन के पश्चिमोत्तर प्रांत लानझौऊ से 43 कोच वाली एक माल गाड़ी रवाना हुई है। इसमें लगभग 83 कंटेनेरों रोजमर्रा का सामान लदा है। यह सामान तिब्बत के शिगाजे पहुंचेगा, वहां से सड़क से नेपाल के गीलांग पहुंचेगा। रोजमर्रा के सामान के साथ यह भी आशंका व्यक्त की तजा रही है कि चीन नेपाल को हथियार भी मुहैया करवायेगा। ताकि भविष्य में कभी युद्ध की स्थिति आये तो उसका जवाब देने के लिए नेपाल सक्षम हो सके। चीन ने अपनी इस चाल से भारत सरकार को दोतरफा मुश्किलें बढ़ा दी हैं।