चीन की चेतावनी, पाकिस्तान को हल्के में न ले भारत

बीजिंग (8 फरवरी): कई मोर्चे पर परेशान चीन अपनी चालबाजी से बाच नहीं आ रहा है। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में भारत के कद से वो परेशान है। और पाकिस्तान को ढाल बनाकर वो भारत पर निशाना साध रहा है। इसी कड़ी में चीनी सरकारी मीडिया ने कहा है कि भारत पाकिस्तान को हल्के में ना ले।

चीनी सरकारी मीडिया के मुताबिक पाकिस्तानी क्षेत्र पर नियंत्रण की भारतीय सेना की 'कोल्ड स्टार्ट' की नीति भयभीत करने वाली है, लेकिन इससे परमाणु-संपन्न पाकिस्तान के खिलाफ भारत की 'एकतरफा' जीत सुनिश्चित नहीं होगी। चीन ने कहा है कि भारत ताकत ज्यादा रखते हुए भी पाकिस्तान को नजरअंदाज नहीं कर सकता।

'ग्लोबल टाइम्स' में प्रकाशित एक लेख में कहा गया है कि भारत और पाकिस्तान दोनों परमाणु-संपन्न देश हैं। कोल्ड स्टार्ट की रणनीति भयभीत करने वाली प्रतीत होती है और दोनों देशों की सैन्य क्षमता में अंतर है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि भारत पाकिस्तान के खिलाफ आसानी से एकतरफा जीत हासिल कर सकता है। साथ ही लेख में कहा गया है कि सच्चाई यह है कि पाकिस्तान अपनी संप्रभुता की रक्षा में उल्लेखनीय तौर पर मजबूत है और उसके परमाणु हथियारों को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

समाचार पत्र में कहा गया है कि दक्षिण एशिया को लेकर अमेरिका की भविष्य की विदेश नीति में अनिश्चितता के मद्देनजर पहले से रुकी हुई भारत-पाकिस्तान की शांति प्रकिया अब नाजुक स्थिति में पहुंच गयी है। भारत के नए सेना चीफ जनरल बिपिन रावत ने पिछले दिनों 'कोल्ड स्टार्ट डॉक्ट्रीन' का जिक्र किया था। हालांकि इससे पहले भारत इसे सार्वजनिक तौर पर स्वीकार करने से बचता रहा था।