चीन का J-10 फाइटर उड़ाने वाली महिला पायलट की मौत


बीजिंग (14 नवंबर): चीन के द्वारा बनाए गए J-10 फाइटर विमान उड़ाने वाली पहली महिला पायलट यू शू की एक हादसे में मौत हो गई। हुबेई प्रोविन्स में एयरोबेटिक एक्सरसाइज के दौरान शू अपने फाइटर से बाहर निकलने की कोशिश में दूसरे प्लेन के विंग से टकरा गईं।

यू सिचुआन के चोंगझोऊ शहर की रहने वाली थीं। उन्होंने 2005 में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी में एयरफोर्स ज्वाइन की थी।

एयरोबेटिक डिस्प्ले टीम 'अगस्त फर्स्ट' की थीं मेम्बर....
- चाइना डेली न्यूजपेपर की रिपोर्ट के मुताबिक, 30 साल की यू शू चीन एयरफोर्स की एयरोबेटिक डिस्प्ले टीम 'अगस्त फर्स्ट' की मेम्बर थीं।
- हुबेई प्रोविन्स में ट्रेनिंग एक्सरसाइज को दौरान एयरक्राफ्ट से निकलने की कोशिश में शू के साथ ये हादसा हुआ।
- इस दौरान वो दूसरे जेट की विंग से टकराईं और उनकी मौत हो गई। हालांकि, उनका साथी पायलट सुरक्षित निकलने में कामयाब रहा।
- एयरफोर्स के स्पोक्सपर्सन शेन जिंके ने कहा कि पीएलए एयरफोर्स के पूरे स्टाफ ने यू की मौत पर दुख जताया है।
- ग्लोबल टाइम्स न्यूजपेपर के मुताबिक, ''देश की सिर्फ चार ही महिला पायलट के पास देश में बने फाइटर जेट उड़ाने की क्षमता है। उनमें से एक बेहतरीन पायलट की मौत चाइनीज एयरफोर्स के लिए एक बहुत बड़ा नुकसान है।''
- चीन की सोशल मीडिया साइट वीबो पर भी हजारों यूजर्स ने यू की मौत पर दुख जाहिर किया है।