सावधान! चीन देश में भेज रहा है नकली अंडे, ऐसे करें पहचान

वरुण सिन्हा, नई दिल्ली (26 दिसंबर): चीन में अंडे से लेकर ब्रेड तक, ब्रेड से लेकर मीट तक और मीट से लेकर चावल तक सबकुछ नकली तैयार किया जा रहा है। चीन में बन रहे अंडे जो देखने में बिल्कुल मुर्गी के आम अंडों की तरह दिखते हैं, लेकिन मुर्गी से उन अंडों का दूर-दूर तक कोई रिश्ता नहीं होता है। जीं हां, अगर आपने सावधानी नहीं बरती तो असली से दिखने वाले ये चाइनीज अंडे आपके किचन में घुसकर आपकी सेहत बिगाड़ सकते हैं।

केरल और छत्तीसगढ़ में घातक चाइनीज अंडे की सप्लाई की खबर आने के बाद केंद्र सरकार ने कड़े कदम अख्तियार कर लिए हैं। केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को निर्देश दिया है कि नकली अंडे की अफवाह को गंभीरता से लें। केंद्र सरकार के निर्देश के बाद छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश के हर जिले में चेतावनी जारी कर आदेश दिया है कि कृत्रिम अंडों के आयात और बनाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दें कि नकली अंडों का निर्माण चीन में बहुत तेजी से हो रहा है। देखने में चीन के बने अंडे भी बिल्कुल ही आम अंडों की तरह लगते हैं, लेकिन आपको जानकर ये हैरानी होगी कि इस अंडे को मुर्गी ने जन्म नहीं दिया है, बल्कि इसे केमिकल से तैयार किया गया है।

जाने चीन के कैसे बनते हैं नकली अंडे...

- गुनगुने पानी में पहले सोडियम एल्गिनाइट मिलाया जाता है।

- उसके बाद जिलेटिन, बेंजोइक अम्ल, एल्यूम और कुछ दूसरे रसायनों के साथ मिलाकर अंडे का सफेद हिस्सा तैयार किया जाता है।

- अब तक तैयार किए गए मिश्रण में नींबू का रंग मिला दिया जाता है।

- उसके बाद इस मिश्रण में कैल्सियम क्लोराइड डाल कर उसे अंडों के आकार में ढ़ाल दिया जाता है।

- इस तरह से नकली अंडे का छिलका तैयार किया जाता है।

- अंडे के अंदर का हिस्सा भी बिल्कुल आम अंडों की तरह होता है।

- चीनी अंडों में भी व्हाइट और पीला पार्ट जिसे जरदी कहते हैं वो मौजूद होता है, लेकिन असली बिल्कुल नहीं।

- इस हिस्से को बनाने के लिये जिलेटिन, सोडियम एल्गिनाइट, एल्यूम और कैल्शियम की जरूरत होती है।

- कैल्शियम की मात्रा उतनी ही होती है जितना एक इंसान पचा सके।

कैसे पहचाने नकली अंडा?

- नकली अंडे आकार में असली अंडे से छोटे होते हैं।

- अंडे के अंदर का पीला भाग गहरे पीले रंग का होता है।

- कच्चे अंडे के अंदर का पीला भाग ठोस नहीं होता।

- अंडे के फूटते ही अंडे की जरदी सफेद भाग में मिल जाती है।