BREAKING NEWS: चीन का असली रंग सामने आया, मसूद अजहर को किया समर्थन

नई दिल्ली (1 अक्टूबर): इस समय एक बड़ी खबर यह आ रही है कि चीन ने जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया और आतंकी मसूद अजहर पर जारी किए अपने वीटो की समय-सीमा बढ़ा दी है।

चीन के विदेश मंत्री जेंग सुआन ने कहा कि कुछ तकनीकी कारणों से चीन ने आगे आपत्ति को नहीं उठा सकता था, इसलिए उसने अपने वीटो को अलगे छह महीने के लिए बढ़ा दिया है। इसी के साथ भारत को एक बड़ा झटका यह लगा है कि कुछ ही समय में चीन के वीटो की अवधि खत्म होने जा रही थी, जिसके बाद भारत पूरी ताकत के साथ यूएन में उसके संगठन जैश-ए-मोहम्मद को आतंकी संगठन करार कराने वाला था।

इस साल 31 मार्च में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की प्रतिबंध समिति के अंतर्गत प्रतिबंध लगवाने के भारत की कोशिश को परिषद के वीटो अधिकार प्राप्त स्थाई सदस्य चीन ने बाधित कर दिया था। पंद्रह सदस्यीय सुरक्षा परिषद में चीन ही एकमात्र ऐसा देश था, जिसने भारत के आवेदन पर अड़ंगा लगाया था, जबकि सभी 14 अन्य सदस्यों ने अजहर का नाम 1267 प्रतिबंध सूची में डालने के लिए भारत के प्रयास का समर्थन किया था।

इससे पहले आज ही चीन ने भारत को एक बड़ा झटका ब्रह्मपुत्र नदी का पानी रोककर दिया। भारतीय सेना के द्वारा पीओके में की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भले ही चीन खुलकर कुछ नहीं कह रहा था और दोनों देशों को शांति से बैठकर आतंकवाद पर मसले सुलझाने की बात कह रहा था, लेकिन उसकी इस हरकत ने यह दिखा दिया है कि वह पाकिस्तान के साथ खड़ा है।