'चालाक' चीन ने चली एक और चाल, पाकिस्तान में करने जा रहा बड़ा काम

नई दिल्ली(6 जनवरी): अमेरिका और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव का फायदा उठाने में चीन लग गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, जिबूती के बाद चीन पाकिस्‍तान में अपने दूसरे विदेशी नौसैन्‍य ठिकाने के निर्माण की योजना बना रहा है। 

- एक सैन्‍य विशेषज्ञ झाउ चेनमिंग के हवाले से रिपोर्ट में यह दावा किया है, जिसमें यह भी कहा गया है कि चीन जहां नौसैन्‍य ठिकाने बनाने की फिराक में है, वह ग्‍वादर के समीप ही स्थित है। 

- रिपोर्ट में चेनमिंग के हवाले से कहा गया है कि चीन को अपने युद्धपोतों के लिए ग्‍वादर में एक और नौसैन्‍य ठिकाना बनाने की जरूरत है, क्‍योंकि अब यह एक नागरिक बंदरगाह है। चेनमिंग ने युद्धपोतों और मालवाहक जहाजों के लिए अलग से सुविधाएं उपलब्‍ध कराने को लेकर इसे सामान्‍य प्रक्रिया बताया।

- कुछ मीडिया रिपोर्टों में बताया जा रहा है कि चीन की नजर जिबूती के बाद अब जिवानी द्वीप पर है। सामरिक नजरिए से बेहद अहम जिवानी द्वीप पाकिस्तान के ग्वादर में है। यह ईरान की सीमा से सटा हुआ है और सबसे अहम बात यह है कि यह भारत द्वारा विकसित चाबहार बंदरगाह से बेहद करीब है।