कश्मीर 'इस्लामिक' साजिश नाकाम, चीन ने पाक को दिया जोरदार झटका

नई दिल्ली ( 23 सितंबर ): इस्लामाबाद के सदाबहार दोस्त बीजिंग ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के पिछबाड़े पर दुलत्ती जड़ी है। पाकिस्तान ने एक साजिश रच कर ओआईसी के जरिए कश्मीर के मुद्दे पर भारत को दबाव में लेने की कोशिश की थी। ओआईसी 57 इस्लामिक देशों का समूह है। पाकिस्तान भी उसका सदस्य है। पाकिस्तान को उम्मीद थी कि जब ओआईसी यूएन में कश्मीर का मुद्दा उठाएगा तो चीन का समर्थन मिल ही जायेगा। मगर ऐसा नहीं हुआ।

चीन ने इस्लामिक देशों के दबाव में आने के बजाए पाकिस्तान और औआईसी के सदस्य देशों के प्रस्ताव को न केवल खारिज कर दिया बल्कि राय भी दे डाली कि भारत और पाकिस्तान को बातचीत के जरिए इस मसले का हल द्विपक्षीय तरीके से करना चाहिए। कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को लागू करने के ओआईसी के संपर्क समूह के आह्वान के बारे में पूछे जाने पर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने कहा कि भारत और पाकिस्तान को इस मसले को सुलझाना चाहिए। इस कांग ने कहा कि हमें नहीं लगता कि इस मुद्दे पर किसी तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप की आवश्यकता है। चीन के इस कदम से जहां भारत का पक्ष और मजबूत हुआ  है वहीं ओआईसी में पाकिस्तान की किरकिरी हुई है। पाकिस्तान ने  ओआईसी को भरोसा दिलाया था कि अगर कश्मीर मुद्दा ओआईसी के फोरम से उठाया जाता  है चीन उसका समर्थन करेगा।