फर्जी निकला पाक का दांवा, चीन ने फिर लगाई उसे फटकार

बीजिंग (26 सितंबर): चीन ने एक बार फिर उस दांवे को सिरे से खारिज कर दिया है, जिसमें पाकिस्तान की मीडिया ने युद्ध की स्थिति और कश्मीर मुद्दे पर उसका साथ देने की बात कही थी।

'एक दोस्त और पड़ोसी' के नाते चीन एक बार फिर भारत और पाकिस्तान से अपील करता है कि कश्मीर सहित विभिन्न विवादों के 'उचित' समाधान के लिए वार्ता करे जो 'विरासत में मिले हैं।' लाहौर में पाकिस्तान के महावाणिज्यदूत यू बोरेन की कथित टिप्पणी के बारे में पूछने पर कि क्या युद्ध होने या कश्मीर के मुद्दे पर चीन इस्लामाबाद का समर्थन करेगा तो चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा कि राजदूत के इस तरह की किसी टिप्पणी के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा, 'जो आप बता रहे हैं उस स्थिति के बारे में मुझे नहीं पता। लेकिन समसामयिक मुद्दे पर चीन का रुख स्थिर और स्पष्ट है।'

गेंग शुआंग ने कहा, 'पाकिस्तान और भारत दोनों के पड़ोसी और दोस्त के रूप में हमें उम्मीद है कि दोनों देश अपने मतभेदों का समाधान वार्ता और विचार-विमर्श, स्थिति को नियंत्रित और प्रबंध कर करेंगे और दक्षिण एशिया की शांति और स्थिरता तथा क्षेत्र की प्रगति के लिए काम करेंगे।' उन्होंने कहा, 'कश्मीर मुद्दे के संबंध में हमारा मानना है कि यह मुद्दा विरासत में मिला है। हमें उम्मीद है कि संबंधित पक्ष शांतिपूर्ण और उचित तरीके से मुद्दे का समाधान करेंगे।'