इस पॉप सिंगर से डर गया चीन, दुश्मन ताकत बता कर लगाया प्रतिबंध

नई दिल्ली (28 जून): पॉप सिंगर लेडी गागा को चीन की कम्युनिस्ट सरकार ने विदेशी दुश्मन ताकत की सूची में डाल दिया। चीन ने यह कार्रवाई लेडी गागा और दलाई लामा की मुलाकात का वीडियो सोशल मीडिया पर आने के बाद की है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक लेडी गागा अभी सिर्फ 30 साल की हैं और उनकी पौने तीन करोड़ से ज्यादा एलबम बिक चुकी हैं। चीन में भी लेडी गागा की फेन फॉलोइंग अच्छी-खासी है। लेडी गागा ने अपने फेसबुक अकाउंट पर दलाई लामा के साथ 19 मिनट की मुलाकात का वीडियो डाला था।

जिसमें वे दोनों ध्यान, मानसिक स्वास्थ्य और समाज से बुराइयां दूर करने के बारे में बात कर रहे थे। इस मुलाकात पर बीजिंग ने गुस्से भरी प्रतिक्रिया देते हुए दलाई लामा को ‘भिक्षु के वेश में एक भेड़िया’ करार दिया। मार्च 1959 में निर्वासन में चले गए दलाई लामा इस बात पर जोर देते हैं कि वह तिब्बतवासियों के लिए चीनी शासन से ज्यादा स्वायत्ता हासिल करना चाहते हैं।

चीनी सरकार उन्हें एक अलगाववादी मानती हैं। उसका दावा है कि दलाई लामा हिमालयी क्षेत्र को चीन से अलग करने की साजिश रच रहे हैं ताकि वहां धार्मिक शासन की स्थापना की जा सके। हांगकांग के एप्पल डेली के अनुसार, गागा की मुलाकात के बाद कम्यूनिस्ट पार्टी  ने लेडी गागा के सभी प्रदर्शनों को चीन में प्रतिबंधित करने का एक निर्देश जारी किया है।