चीन ने बना लिया अब तक का सबसे बड़ा जहाज

नई दिल्ली(24 जुलाई): चीन ने दुनिया का सबसे बड़ा जहाज बना लिया है। ये जहाज समुद्र में तैर सकता है और हवा में उड़ भी सकता है। चीन की न्यूज एजेंसी शिन्हुआ ने इसका दावा करते हुए बताया कि इस ऐम्फिबिअस एयरक्राफ्ट को बनाने में सात साल लगे और अब वह बनकर तैयार है। चीन इसका इस्तेमाल समुद्र में राहत अभियान चलाने और जंगलों की आग बुझाने में करेगा।

बोइंग 737 के आकार के बराबर वाले इस एयरक्राफ्ट का नाम एजी600 है जिसे सरकारी विमानान कंपनी एविएशन इंडस्ट्री कॉर्पोरेशन ऑफ चाइना (एवीआईसी) ने बनाया है। इस पर कंपनी में जारी सात साल का काम शनिवार को खत्म हो गया।एवीआईसी के डेप्युटी जनरल मैनेजर ने बताया कि यह प्लेन चीन की एविएशन इंडस्ट्री की नवीनतम कामयाबी है। 2009 में चीन की सरकार ने एजी600 के विकास और उत्पादन की योजना पर आगे बढ़ने की अनुमति दी थी।

इस एयरक्राफ्ट का मैक्सिमम फ्लाइट रेंज 4,500 कि.मी. का है और यह सिर्फ 20 सेकंड में 12 टन पानी जमा कर सकता है। 53.5 टन का भार लेकर उड़ान भर सकता है। चीन सबमरीन्स, एयरक्राफ्ट कैरियर्स और ऐंटी-सैटलाइट मिसाइल्स समेत कई प्रकार के उन्नत और अत्याधुनिक सैन्य साजो-सामान पर लगातार रिसर्च कर रहा है। इनका एशिया के देशों के साथ-साथ अमेरिका की नीतियों पर असर पड़ रहा है क्योंकि दक्षिण चीन सागर जैसे विवादित इलाकों को लेकर चीन का रवैया दादागिरी वाला रहा है। जून में इसने देश में निर्मित सबसे बड़े यात्री विमान का उद्घाटन किया था।