चीन ने अपने नागरिकों से कहा, पाक में माने वहीं के कानून

नई दिल्ली ( 14 जून ): पाक से डरे चीन ने पाकिस्तान में रह रहे अपने नागरिकों को हिदायत दी है कि वह पाकिस्तानी कानून का पालन करें। हाल ही में पाकिस्तान के बलूचिस्तान में दो चीनी नागरिकों की हत्या कर दी गई थी। चीनी नागिरकों की हत्या की जिम्मेदारी आईएसआईएस ने ली है। बलूचिस्तान में चीनी नागरिकों की हत्या के मामले के बाद अब चीन ने अपने नागरिकों को कहा है कि विदेश यात्रा के दौरान उसी देश के कानून का पालन करें। मारे गए दोनों चीनी नागरिक इसाई धर्मोपदेशक थे।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा विदेश की यात्रा कर रहे चीनी नागरिकों की सुरक्षा बहुत पेइचिंग के लिए बहुत जरूरी है, लेकिन उन्होंने इस दौरान संबंधित देशों के हितों और कानून का पालन करने को भी कहा। बता दें कि इस्लामिक देश पाकिस्तान में मिशनरी का काम गैर कानूनी है।

विदेश मंत्रालय ने बुधवार को अपनी वेबसाइट पर प्रवक्ता लू कंग के हवाले से लिखा गया एक बयान जारी किया। इसमें कहा गया है, 'हम हमेशा विदेश की यात्रा कर रहे चीनी नागरिकों से संबंधित देश के नियम और कानून का पालन करने को कहते आए हैं, वहां के रीति-रिवाज और मान्यताओं का सम्मान करने को कहते हैं। साथ ही ऐसा न करने वालों के लिए संभावित खतरों से भी अवगत कराते रहे हैं।'

आपको बता दें कि पाकिस्तान के गृह मंत्री चौधरी निसार ने सोमवार को कहा था कि बलूचिस्तान में मारे गए दोनों चीनी नागरिक धर्म प्रचार में शामिल थे।