भारत-बांग्लादेश में दरार डालने के लिए चीन ने दी 24 अरब डॉलर की घूस!

नई दिल्ली (14 अक्टूबर): भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीखकर चीन अब हमारे ही पड़ोसी देशों को हमारे खिलाफ खड़ा करने की कोशिश कर रहा है। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने इसी कड़ी में बांग्लादेश यात्रा के दौरान 24 अरब अमेरिकी डॉलर से भी ज़्यादा रकम के कर्जों को मंज़ूरी दी हैं।

30 साल के बाद कोई चीनी राष्‍ट्रपति बांग्लादेश पहुंचा और उसने इतनी बड़ी रकम उसे दे दी। यह अपने आप में साफ दिखाता है कि वह बांग्लादेश का प्रयोग आने वाले समय में भारत के खिलाफ करने वाला है। इसी के साथ यह बांग्लादेश को अब तक का सबसे बड़ा विदेशी कर्ज़ होगा। इसकी मदद से वह ऊर्जा संयंत्र व बंदरगाह बना सकेगा और रेलवे में भी सुधार करेगा।

हालांकि भारत खुद भी बांग्लादेश में निवेश बढ़ा रहा है। बांग्लादेश को भारत अपने प्रभावक्षेत्र का हिस्सा मानता रहा है। भारत की ही मदद से जापान भी बांग्लादेश से जुड़ गया है, और उसने बंदरगाह निर्माण तथा ऊर्जा कॉम्प्लेक्स बनाने के लिए कम ब्याज पर बांग्लादेश को रकम दी है, जिससे 16 करोड़ की आबादी वाले देश में प्रभुत्व बढ़ाने का 'खेल' शुरू हो गया है।