नीतीश कैबिनेट का बड़ा फैसला, आउट सोर्सिंग की नौकरियों में लागू किया आरक्षण

नई दिल्ली ( 1 नवंबर ): मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में दस एजेंडो पर मुहर लगायी है। कैबिनेट की बैठक में लिये गये फैसलों में सबसे महत्वपूर्ण फैसला आउट सोर्सिंग की नौकरी में आरक्षण लागू करने पर भी मुहर लगायी गयी है। आरक्षण को लेकर चल रहे सियासी घमसान के बीच नीतीश कैबिनेट ने यह फैसला किया है। 

साथ ही कहा गया है कि आउट सोर्सिंग की कंपनियों को आरक्षण नियम का पालन करना होगा। देश भर में स्‍थायी तौर पर नियुक्तियों के सरकारी अवसर कम हो रहे हैं। ठेकों पर नियुक्तियों का नया रिवाज चल पड़ा है। इन नियुक्तियों के लिए करीब-करीब सभी सरकारें आउटसोर्सिंग कंपनियों का सहारा भी लेती हैं। अब तक इन नियुक्तियों में किसी प्रकार के आरक्षण का फार्मूला नहीं लागू था, लेकिन बिहार में नीतीश कुमार की सरकार ने आज आउट सोर्सिंग की नौकरी में आरक्षण लागू करने का बड़ा फैसला लिया है। राज्‍य मंत्रिपरिषद की बैठक में निर्णय किया गया है कि ठेके पर आउटसोर्सिंग श्रोत से होने वाली नियुक्तियों में भी रिजर्वेशन लागू किया जाएगा । 

इसके अलावा कैबिनेट ने गुरुगोविंद सिंह महाराज के 350वें प्रकाशोत्सव के समापन समारोह के लिए भी 52 करोड़ रुपये स्वीकृत किया है।