गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि होंगे अबू धाबी के प्रिंस, दिल्ली में पीएम मोदी ने किया स्वागत

नई दिल्ली ( 24 जनवरी ): 68वें गणतंत्र दिवस के मौके पर पहलीयूएई की आर्मी राजपथ पर परेड करेगी। अबू धाबी के प्रिंस और यूएई आर्म्ड फोर्सेस के डिप्टी सुप्रीम कमांडर शेख मोहम्मद बिन जाएद अल नाह्यां मंगलवार को दिल्ली पहुंचे और वे गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि होंगे। उन्हें रिसीव करने के लिए प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी एयरपोर्ट पहुंचे। फ्रांस के बाद (2016) ये दूसरा मौका है, जब कोई विदेशी आर्मी परेड में हिस्सा ले रही है। सोमवार को फुल ड्रेस रिहर्सल में यूएई की टुकड़ी भी शामिल रही। इस बार परेड में 23 झांकियां नजर आएंगी।

शेख मोहम्मद तीन दिन के दौरे पर आए हैं। पहले राष्ट्रपति भवन में भोज होगा। इसके बाद प्रिंस महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने राजघाट जाएंगे।25 जनवरी की दोपहर में नरेंद्र मोदी के साथ हैदराबाद हाउस में बातचीत और 16 एग्रीमेंट्स पर साइन करेंगे। बुधवार को ही वे प्रेसिडेंट प्रणव मुखर्जी और वाइस प्रेसिडेंट हामिद अंसारी से मुलाकात भी करेंगे।26 जनवरी को परेड समारोह देखने के बाद अपने देश के लिए रवाना हो जाएंगे।

बता दें कि मोदी के पीएम बनने के बाद 2015 में बराक ओबामा और 2016 में फ्रांस्वा ओलांद परेड समारोह में बतौर चीफ गेस्ट शामिल हुए।

अहमद अल बन्ना ने कहा, ''हम आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में भारत का सपोर्ट करते हैं। यूएई ने पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले की निंदा की। साथ ही भारत के सर्जिकल स्ट्राइक का भी सपोर्ट किया था।''पिछले साल अक्टूबर में इन्विटेशन पर प्रिंस ने कहा था, ''हमारे मजबूत रिश्ते कई सालों से चले आ रहे हैं। आपसी सहयोग से इन्हें और मजबूती मिलेगी।'' पिछले साल फरवरी में नाह्यां भारत दौरे पर आए थे।