चिदंबरम ने 2011 में जिस CBI मुख्यालय का किया था उद्धाटन, उसी के लॉकअप में काटी रात

न्यूज़ 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(22 अगस्त): केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) ने पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को आईएनएक्स मीडिया से संबंधित मामले में बुधवार रात को हिरासत में ले लिया। उन्होंने कांग्रेस दफ्तर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और फिर अपने घर के लिए निकल पड़े। जैसे ही सीबीआई को भनक लगी कि चिदंबरम कांग्रेस मुख्यालय में हैं, टीम वहां के लिए निकली। लेकिन सीबीआई की टीम पहुंचने से चंद मिनट पहले ही चिदंबरम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपने घर के लिए निकल गए। उसके बाद सीबीआई की टीम भी कांग्रेस दफ्तर से सीधे चिदंबरम के घर पर पहुंची और उन्हें हिरासत में ले लिया।

सीबीआई के करीब 30 अधिकारियों की टीम दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के साथ जोर बाग स्थित चिदंबरम के आवास पर पहुंची। कुछ देर मुख्य दरवाजा खटखटाने के बाद अधिकारियों ने परिसर की दीवार फांदकर घर में प्रवेश किया।  बाद में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की एक टीम भी वहां पहुंची. करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद चिदंबरम को गिरफ्तार कर लोदी रोड सीजीओ काम्पलेक्स स्थित सीबीआई मुख्यालय ले जाया गया।

आपको बता दें कि सीबीआई के जिस दफ्तर में चिदंबरम को गिरफ्तार करके ले जाया गया है उसका उद्घाटन यूपीए सरकार में गृह मंत्री पलानीअप्पन चिदंबरम ने ही किया था। वर्तमान सीबीआई मुख्यालय का भवन मनमोहन सिंह सरकार में 2011 में बनकर तैयार हुआ था। उस समय उद्घाटन समारोह में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह मुख्य अतिथि थे। इस कार्यक्रम में पी चिदंबरम विशिष्ट अतिथि बनकर पहुंचे थे। बुधवार को सीबीआई उन्हें बतौर आरोपी उसी मुख्यालय में लेकर गई है।

जानकारी के मुताबिक पूर्व केंद्रीय मंत्री को रात भर यहीं सीबीआई मुख्यालय में रखा जाएगा और सीबीआई गुरुवार को यहीं से उन्हें कोर्ट में पेश करेगी। गौरतलब है कि आईएनएक्स मीडिया मामले में दिल्ली हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद सीबीआई अधिकारी मंगलवार को चिदंबरम के दिल्ली स्थित आवास पहुंचे, लेकिन वहां उनसे मुलाकात नहीं होने पर अधिकारियों ने एक नोटिस चस्पा कर उन्हें दो घंटे में पेश होने का निर्देश दिया था।