पत्रकार जेडे हत्याकांड में छोटा राजन दोषी करार, जिग्ना वोरा बरी

नई दिल्ली (2 मई): सात साल बाद मकोका कोर्ट ने वरिष्‍ठ पत्रकार जेडे हत्याकांड में छोटा राजन को दोषी करार दिया है। इसी के साथ पत्रकार जिग्‍ना वोर और पॉलसन जोसेफ को बरी कर दिया गया है। 11 जून 2011 को पत्रकार जेडे की हत्‍या की गई थी।जज समीर अडकर ने इस मामले में 11 आरोपियों से 9 को दोषी करार दिया है और दो को बरी कर दिया है। छोटा राजन इस समय दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद है। महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण कानून (मकोका) से संबंधित विशेष अदालत ने इस मामले की अंतिम सुनवाई फरवरी में शुरू की थी, जोकि पिछले महीने समाप्त हुई।जेडे अंग्रेजी सांध्य दैनिक मिड-डे के संपादक (इनवेस्टिगेशन) थे और उन्हें 11 जून, 2011 को मुंबई के उपनगर पवई में स्थित उनके आवास के समीप गोली मार दी गई थी। यह जांच पहले पुलिस कर रही थी, लेकिन बाद में इसकी जटिलता को देखते हुए इसे अपराध शाखा को सौंप दिया गया।इस मामले में मोड़ तब आया था, जब पुलिस ने 25 नवंबर, 2011 को मुंबई के द एशियन एज की डिप्टी ब्यूरो चीफ जिग्ना वोरा समेत 10 अन्य को गिरफ्तार किया। जांच के दौरान पता चला था कि वोरा कथित रूप से लगातार छोटा राजन के संपर्क में थीं और जेडे की हत्या के लिए उसे उसकाया था।11वें आरोपी विनोद आसरानी उर्फ विनोद चेंबुर की एक निजी अस्पताल में अप्रैल 2015 में मौत हो गई थी। आसरानी कथित रूप से इस पूरे अभियान का मुख्य सह-साजिशकर्ता और धन प्रबंधक था।