छत्तीसगढ़ में मंत्रिमंडल विस्तार आज, बघेल कैबिनेट में इन्हें मिल सकता है मौका


न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई (25 दिसंबर): 15 साल बाद छत्तीसगढ़ की सत्ता में वापसी के बाद आज यहां मुख्यमंत्री भूपेश बलेश के मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण होगा। सुबह करीब 11 बजे पुलिस परेड ग्राउंड में शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन होगा। भूपेश बघेल की कैबिनेट में अलग-अलग संभागों से मंत्री बनाए जा सकते हैं। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल 24 दिसंबर की शाम तक रायपुर पहुंच जाएंगी। इसके बाद सुबह 11 बजे शपथ ग्रहण समारोह होगा। भूपेश बघेल ने शनिवार की देर शाम को दिल्ली में राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मंत्रीमंडल के विस्तार के लिए मुलाकात की। लंबी चर्चा के बाद राहुल गांधी ने छग के मंत्रिमंडल की फाइनल सूची पर मुहर लगा दी है। जिसके बाद सूची लेकर बघेल दिल्ली से रायपुर पहुंच गए है। राहुल गांधी के साथ हुई बैठक में छग के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया भी मौजूद रहे।



देश में नई सरकार के गठन के साथ ही मंत्रीमंडल गठन को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। चुनाव में कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता जीतकर आए हैं। साथ ही कई विधायकों ने भाजपा के दिग्गज मंत्रियों तक को शिकस्त दी। ऐसे में मंत्रियों के नाम को लेकर सहमति नहीं बन पा रही थी। ऐसे में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित वरिष्ठ नेताओं ने दिल्ली पहुंचकर आलाकमान के नेताओं से बात की। राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ हुई बैठक के बाद प्रदेश के नेता शनिवार रात ही कैबिनैट मंत्रियों की सूची लेकर लौटे हैं।



रायपुर में मीडिया से बातचीत में सीएम बघेल ने कहा कि प्रदेश के किस विधायक को कौन सा प्रभार दिया जाएगा, यह शपथ ग्रहण के बाद बताया जाएगा। उधर दूसरी ओर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि चरणदास महंत छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष होंगे। महंत सक्ति से विधायक हैं। पुनिया ने कहा कि जातिगत, सामाजिक समीकरण और वरिष्ठता के आधार पर 10 मंत्रियों के नाम तय कर लिए गए हैं। हालांकि, उन्होंने नामों को लेकर कोई खुलासा नहीं किया।



जनाकारी के मुताबिक रायपुर संभाग की तो सत्यनारायण शर्मा, धनेन्द्र साहू, शिव डहरिया मंत्री बन सकते हैं। वहीं दुर्ग संभाग से रविंद्र चौबे, अनिल भेड़िया को भी मंत्री पद की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। बस्तर से मनोज मंडावी, कवासी लखमा, मोहम्मद अकबर मंत्री बन सकते हैं। बात करें सरगुजा संभाग की तो प्रेमसाय सिंह टेकाम, अमर जीत भगत को मंत्री बनाया जा सकता है। वहीं बिलासपुर संभाग से आने वाले उमेश पटेल को मंत्री बनाया जा सकता है।