छठी मैया पूरी करेंगी हर मनोकामना, पूजा के दौरान इन बातों के रखें ध्यान

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 नवंबर): छठ का महापर्व शुरू हो चुका है। यह पर्व 11 नवंबर से नहाय-खाय के साथ शुरू हुआ। आज खरना है। कल डूबते हुए सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा, जबकि परसों यानी 14 नवंबर को उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ इस माहापर्व की समाप्ति हो जाएगी। चार दिनों तक यह पर्व चलता है। सूर्य उपासना का यह महापर्व सूर्य को प्रसन्न करके संतान की मनोकामना तथा कुशलता के लिए मनायी जाती है। छठ देवी सूर्य की बहन हैं लेकिन छठ व्रत कथा के अनुसार छठ देवी ईश्वर की पुत्री देवसेना बताई गई हैं। देवसेना प्रकृति की मूल प्रवृति के छठवें अंश से उत्पन्न हुई हैं। देवी कहती हैं कि यदि तुम योग्य संतान चाहते हो तो मेरी विधिवत पूजा करो।आइये पंडित सुरेश पांडे से जानते हैं छठ पर्व का शुभ मुहूर्त और पूजा विधि...