इस क्रिकेटर के पिता ने विराट पर लगाया यह गंभीर आरोप

नई दिल्ली (12 जुलाई): वेस्टइंडीज में पहले प्रैक्टिस मैच में भारतीय टीम का प्रदर्शन शानदार रहा, लेकिन इस मैच में कप्तान विराट कोहली की रणनीति पर सवाल उठे हैं। ये सवाल किसी और ने नहीं टीम इंडिया के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा के पिता ने उठाए है। पुजारा के पिता ने कहा है कि विराट ने प्रैक्टिस मैच में पुजारा को खेलने का पूरा मौका नहीं दिया।

दरअसल प्रैक्टिस मैच में चेतेश्वर पुजारा नंबर 3 पर बल्लेबाजी के लिए आए थे। पुजारा ने 102 गेंदों का सामना किया और 34 रनों की पारी खेली, इसके बाद रिटायर्ड ऑउट हो गए। यानि कि कोहली ने उन्हें वापिस बुला लिया और नीचे के बल्लेबाजों का बल्लेबाजी का मौका दिया। चेतेश्वर पुजारा के कोच और पिता अरविंद पुजारा का कहना है कि कोहली की रणनीति समझ से परे थी। पुजारा को ज्यादा खेलने का मौका नहीं दिया गया। साथ ही अरविंद पुजारा का ये भी मानना है कि गेंदबाजी के दौरान विराट ने जिस तरह की फिल्डिंग लगाई थी वो भी अटपटी थी।

अब हम बताते हैं आपको कि आखिर विराट ने चेतेश्वर पुजारा को 102 गेंद खेलने के बाद क्यों बुला लिया। पहले प्रैक्टिस मैच में किसी भी बल्लेबाज को 100 से ज्यादा गेंद खेलने का मौका नहीं दिया गया। पुजारा के बाद सबसे ज्यादा रोहित शर्मा को 109 गेंद खेलने का मौका मिला। दरअसल विराट कोहली ने पहले ही बल्लेबाजों से साफ कर दिया था कि हर किसी को कम से कम 100 गेंद खेलने का मौका मिलेगा, क्योंकि ये प्रैक्टिस मैच 3 नहीं बल्कि सिर्फ 2 दिन का रखा गया था। विराट ने एक गेम प्लान के तहत पुजारा को क्रीज से वापिस बुलाया था ना कि किसी दूसरी वजह से।

खैर इस घटना के बाद हम उम्मीद करते हैं कि ये चीज़ उतनी बुरी न हो जितनी युवराज के पिता योगराज सिंह की महेंद्र सिंह धोनी को लेकर बोलने के कारण हुई थी। साथ ही कोहली के 100 गेंद वाले गेम प्लान के खुलासे के बाद पुजारा के पिता और कोच की नाराजगी भी दूर हो गई होगी।