दुल्हन नहीं ढूंढ़ सकी मां, कुर्सी से बांध आग लगाई

नई दिल्ली (3 मई): चेन्नई में एक कैब ड्राइवर को अपनी 60 वर्षीय मां को आग लगाकर मार डालने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। इस शख्स ने अपनी मां को कथित तौर पर केवल इसलिए मार डाला क्योंकि वह उसके लिए एक दुल्हन नहीं ढ़ूंढ़ सकी थी।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी ड्राइवर का नाम डी अमरनाथ प्रसाद है। अमरनाथ ने अपनी मां शशिकला को एक कुर्सी से बांधकर रविवार सुबह को उसे आग लगा दी। अरुमबक्कम पुलिस ने इसकी जानकारी दी।

पड़ोसियों ने उनके बीच रविवार सुबह साढ़े 5 बजे झगड़े की आवाजें सुनी थीं। जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी थी। शशिकला और उसका बेटा दुरईसामी कॉलोनी में एक अपार्टमेंट ब्लॉक की छत पर बनी एक फूस की झोपड़ी में रहते थे।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, "शशिकला एक कुर्सी से बंधी झुलसी हुई हालत में पाई गई। उन्हें किलपौक मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां, रविवार को ही उसकी मौत हो गई। वह 70 फीसदी जल चुकी थी।" 

पड़ोसियों के मुताबिक, अमरनाथ अक्सर अपनी मां के साथ झगड़ा किया करता था। इसके अलावा शराब भी पीता था। शशिकला के सबसे बड़े लड़के की कुछ साल पहले मौत हो गई थी। इसके अलावा एक और बेटा है जिसकी शादी हो चुकी है और चेन्नई के दूसरे हिस्से में रहता है। अमरनाथ को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया।