सरकार ने जारी किया एप, जान सकेंगे दवाओं की सही कीमत

नई दिल्ली (29 अगस्त): केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनंथ कुमार ने नेशनल फार्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी ने अपना मोबाइल एप लॉन्च किया। इस एप के जरिए दवा खरीददार दवाओं की कीमत जान सकता है, जिसे सरकार ने रेग्यूलेट किया हुआ है।

अगर दवा खरीददार ने ये पाया कि सरकार ने जो कीमत निर्धारण किया हुआ है उससे ज्यादा कीमत पर दवा विक्रेता दवा को बेच रहा तो ग्राहक फार्मा जन समाधान के जरिए अपनी शिकायत NPPA के पास कर सकता है। इस एप पर सभी आवश्यक दवाइयों के दाम दर्शाए गए हैं। मरीज या परिजन दवा खरीदने से पहले इसके माध्यम से उस दवा की सही कीमत पता कर सकते हैं।

अबज्यादा पैसे नहीं ले पाएंगे: कई बार ऐसा होता है कि पूरा पत्ता लेने के स्थान पर कुछ गोलियां खरीदने पर दवा विक्रेता ज्यादा पैसे लेते हैं। ऐसे में यह एप दवाई के सही दाम बताएगा जिससे दवा विक्रेता दवाओं की मनमानी कीमत नहीं वसूल सकेंगे। इसके बाद दवा की पावर (एमजी) का चयन करें। फिर दवा की मात्रा लिखते ही सही कीमत के साथ-साथ अन्य जानकारी स्क्रीन पर शो होने लग जाएगी। इस एपके जरिए दवा की सही कीमत जानने के लिए सबसे ऊपर सूची से राज्य का चयन करें। इसके बाद दवाई का नाम लिखें और सर्च पर क्लिक करें।

एप को इस्तेमाल करने के लिए एन्ड्रॉयड फोन में एप डाउनलोड करने के लिए प्ले स्टोर में सर्च मेडिसिन प्राइस लिखें। दिखाए एप को डाउनलोड करें। इस एप का उद्देश्य जरूरी दवाइयों के दाम सुनिश्चित करना है। नियमानुसार विक्रेता दवाइयों के लिए तय दाम से अधिक कीमत नहीं वसूल सकते। एप आने के बाद उम्मीद की जा रही है कि उपभोक्ताओं को दवाइयों के दाम की जानकारी मिलेगी।