यूपी: सरकारी स्कूलों में पढ़ाया जाएगा सीएम योगी के गुरु बाबा गोरखनाथ का पाठ

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 16 जून ): योगी आदित्यनाथ के यूपी के मुख्यमंत्री बनने के बाद गोरखपुर को भी लगातार नई पहचान मिल रही है। यूपी के सरकारी विद्यालयों के पाठ्यक्रम से अब गोरक्षपीठ भी जुड़ गया है। गुरु गोरखनाथ को इस साल से कक्षा छह के ‘महान व्यक्तित्व’ पुस्तक में शामिल किया गया है। पुस्तक में पाठ छह के रूप में गुरु गोरखनाथ की जीवनी को जगह दी गई है।सरकारी स्कूलों के नए पाठ्यक्रम में अब उपन्‍यासकार मुंशी प्रेमचंद, शहीद पं. राम प्रसाद बिस्मिल और शहीद बंधू सिंह के साथ बाबा गोरखनाथ को भी शामिल किया गया है।कक्षा 6, 7 और 8 के पाठ्यक्रम में बदलाव के बाद किताबों में बाबा गोरखनाथ, बाबा गंभीरनाथ समेत कई हस्तियों को जगह दी गई है। किताबों की रंगीन छपाई आकर्षक लग रही है। वहीं पाठ्यक्रम में गुरु गोरखनाथ, बाबा गंभीरनाथ, स्वामी प्रणवानंद, शहीद पं. राम प्रसाद बिस्मिल, क्रांतिकारी बाबू बंधू सिंह की जीवनी को शामिल किया गया है।यह कदम योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद उठाया गया जो उत्तर प्रदेश के सीएम बनने से पहले पांच बार गोरखपुर के सांसद भी रह चुके हैं। योगी आदित्यनाथ ने बेसिक शिक्षा परिषद को निर्देश दिए थे कि उन महान व्यक्तियों के अध्याय पाठ्यक्रम में शामिल किए जाएं जिन्हें पिछले सरकारों ने नजरअंदाज किया।योगी गोरखनाथ मंदिर के मुख्य महंत हैं, जो पूर्वी उत्तर प्रदेश में आस्था और भक्ति का एक प्रमुख केंद्र रहा है, यहां लाखों भक्तों द्वारा बाबा गोरखनाथ की पूजा की जाती है। बेसिक शिक्षा अधिकारी भूपेंद्र नारायण सिंह ने बताया कि इस सत्र में पाठ्यपुस्तकों में कुछ बदलाव किए गए हैं और जल्द ही 1 से 8 तक की कक्षा के बच्चों को इन्हें वितरित कर दिया जाएगा।