चंद्रग्रहण के दौरान भूलकर भी न करें ये काम

Image Source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 जनवरी): आज पौष पूर्णिमा है और आज इस साल का पहला चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। ग्रहण की शुरुआत सुबह 9 बजकर 4 मिनट पर होगा और ग्रहण का स्पर्श 10 बजकर 11 मिनट पर होगा। ग्रहण का मध्य यानी परमग्रास 10 बजकर 42 मिनट पर और स्पर्श समाप्त 11 बजकर 13 मिनट पर होगा। ग्रहण का मोक्ष यानी ग्रहण समाप्त दोपहर 12 बजकर 21 मिनट पर होगा। हालांकि भारत में यह चंद्र ग्रहण नहीं दिखाई देगा। ग्रहण मध्य-पूर्व अफ्रीका, यूरोप, अमेरिका, पूर्वी रूस में दिखाई देगा। यह ग्रहण सुपर ब्लड वूल्फ मून होगा यानि कि पूर्ण ग्रहण में चंद्रमा एकदम लालिमा लिए होगा। चंद्र के इस रंग के कारण खगोलशास्त्री से इसे ब्लडमून चंद्रग्रहण कह रहे हैं। चंद्रग्रहण के दौरान चंद्रमा बहुत ही खूबसूरत दिखेगा लेकिन भारत के लोग इस चंद्रग्रहण को नंगी आंखों से नहीं देख सकेंगे क्योंकि दिन के समय ग्रहण लगने की वजह से यह चंद्रग्रहण भारत में दृश्य नहीं होगा।

चंद्रग्रहण के दौरान न करें ये काम...

- मान्यताओं के अनुसार, चंद्रग्रहण के दौरान लोगों को कुछ भी नहीं खाना चाहिए। अगर कुछ खाने का मन है तो चंद्रग्रहण शुरू होने से पहले या फिर खत्म होने के बाद खा लें।

- चंद्रग्रहण के समय ऐसी महिलाएं घर से बाहर न निकलें जो प्रेग्नेंट हैं। इसके अलावा सुईं व नुकीली चीजों का उपयोग भी नहीं करना चाहिए।

- चंद्रग्रहण के समय लोगों को कोई भी शुभ काम नहीं करने चाहिए। इसके अलावा जितने समय तक चंद्रग्रहण रहता है, उस वक्त तक भगवान की पूजा अर्चना न करें। 

- चंद्रग्रहण के दौरान भगवान के मंदिर के दरवाजों को भी बंद रखना शुभ माना जाता है।

- ग्रहण काल के दौरान आलस्य ना करें। ग्रहण काल से पहले स्नान कर लें।